पद्मश्री किसान चाची का एक सपना, पूरा होना अभी बाकी है

Padma Shree Kisan Chachi with KKN Live Executive Editor Kaushlendra Jha
Featured Video Play Icon

KKN न्यूज ब्यूरो। भगवान महावीर के जन्मस्थान वासोकुंड गांव से सटे आनन्दपुर गांव अब किसी पहचान की मुहताज नहीं है। मुजफ्फरपुर जिला के सरैया प्रखंड का यह गांव आज पूरे बिहार में मशहूर है। बल्कि, देश और दुनिया में मशहूर है। इस मुश्किल कार्य को आसान करके दिखाया है, पद्मश्री राजकुमारी देवी उर्फ किसान चाची ने। मुफ्फलिशी में जीवन की शुरुआत करके पद्मश्री तक का सफर आसान नहीं था। आर्थिक तंगी के बीच बच्चो का भविष्य निर्माण करना आसान नहीं था। जमीन की छोटे से टुकड़ो पर सूबे में पहचान स्थापित करना आसान नहीं था और पुरुष की प्रधानता वाले कृषि क्षेत्र में महिला को स्थापित करना भी आसान नहीं था। पर, यह सभी कुछ आसान हो गया। सवाल उठता है, कैसे? सुनिए, खुद किसान चाची की जुबानी। KKN लाइव के ‘’इनसे मिलिए’’ सेगमेंट में किसान चाची ने स्वयं बताया, अपने सफर की पूरी दास्तान। शोहरत और कामयाबी के बूते पहचान बना चुकी किसान चाची, क्या अब राजनीति में कदम बढ़ायेगी? इस सवाल पर किसान चाची ने क्या कहा? देखिए, इस इंटरव्यू में…

ये भी देखे :

वैशाली: कैसे बना गणतंत्र की जननी, देखिए पूरी रिपोर्ट
भगवान बुद्ध के परिनिर्वाण स्थल को लेकर एक दावा यह भी
बृद्धाश्रम की घुटन से निकली सिसकियां, जिम्मेदार कौन?
सेना के रिटार्यड ऑफिसर का Exclusive इंटरव्यू
कांटी : प्रीपेड मीटर को लेकर सुलग रहा है असंतोष

 

KKN लाइव टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है, खबरों की खबर के लिए यहां क्लिक करके आप हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं।

हमारे एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। हमारे सभी खबरों का अपडेट अपने फ़ेसबुक फ़ीड पर पाने  के लिए आप हमारे फ़ेसबुक पेज को लाइक कर सकते हैं, आप हमे  ट्विटर और इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर सकते हैं। वीडियो का नोटिफिकेशन आपको तुरंत मिल जाए इसके लिये आप यहां क्लिक करके हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *