चन्द्रशेखर आजाद क्यों गये थे इलाहाबाद

Report on Chandra Sekhar Azad

बात वर्ष 1920 ई. की है। अंग्रेजो के खिलाफ सड़क पर खुलेआम प्रदर्शन कर रहे एक 14 साल के किशोर को पुलिस गिरफ्तार करती है। किंतु, कम उम्र की वजह से अंग्रेज ऑफिसर को उस […]

वेब सीरीज में विवादो की ये है हकीकत

OTT - New Generation of Cinema

साहित्य समाज का आईना होता है। एक साहित्यकार अपनी कथानक के माध्यम से अपने दौर का चित्रण कर देता है। सिनेमा भी इसी की एक विधा है। फिल्में अपने दौर का दस्तावेज होती हैं। कहतें […]

इतिहास का जीवित धरोहर है लालकिला

Red Fort Delhi

लालकिला, एक ऐसा नाम जो किसी पहचान की मुहताज नहीं है। यह ईट और पत्थर से बना, महज एक भवन नहीं। बल्कि, इतिहास की जिवित धरोहर है। राजा बदले, राजघराना बदला और सत्ता का केन्द्र […]

1857 के गदर की अनसुनी बातें

Mangal Pandey 1857

हम बात करेंगे 1857 के गदर की। जिसे अंग्रेजो ने महज सिपाही बिद्रोह कहा था। यह इतिहास का एक ऐसा मोड़ है, जिसको समझना और याद रखना हम सभी के लिए बहुत जरुरी है। हमारी […]

बाबा साहेब की चेतावनी को गंभीरता से समझना होगा

Baba Saheb Bhimrao Ambedkar

दुनिया में इन दिनो किताबें पढ़ने की प्रवृत्ति कम हुई है। पर, भारत में यह प्रवृत्ति अब खतरनाक रूप लेने लगा है। दुनिया को ज्ञान की शिक्षा देने वाला भारत के अधिकांश लोग अब सुनी […]

नींद नहीं आना खतरे का संकेत हो सकता है

Neend nahi aana khartrein ka sanket

तनाव से भरी जिन्दगी में आज नींद एक बड़ी समस्या बन चुकी है। शहर ही नहीं बल्कि, गांव में रहने वाले लोग भी अब अक्सर नींद नहीं आने की बात करते है। हालांकि, लोग इसको […]

2021 को लेकर नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी चिंता बढ़ाने वाली है

Nostradamus 2021 predictions

नास्त्रेदमस ने अपनी पुस्तक ‘लेस प्रोफेटीस’ में वर्ष 2021 को लेकर कई चौकाने वाली भविष्यवाणियां की है। इसमें लिखा है कि वर्ष 2021 में दुनिया पर एक और वायरस का हमला होने वाला है। हम […]

नई उम्मीदो के साथ नए साल में 2020 को भूलना आसान नहीं

Good Bye 2020 Welcome 2020

मध्यरात्रि की मादक जश्नो के बीच वर्ष 2021 ने अपना पहला कदम रख दिया है। सूरज की पहली किरणो के साथ नई उम्मीदें अंगराई भरने लगी है। कैलेंडर बदल चुका है। अरमानो की उछाल परवाज […]

बंद से होने वाला आर्थिक नुकसान चौकाने वाला

Impact of Strike on any Economy

प्रजातंत्र में सरकार की नीतियों का विरोध करने का प्रचलन रहा है। अपना विरोध दर्ज कराने के लिए धरना, प्रदर्शन और बंद करने का भी प्रचलन रहा है। असंतोष जताने का यह एक आम तरीका […]

क्रिसमस देता है मोहब्बत का पैगाम

Why Christmas is Celebrated

इसाई समुदाय के लिए क्रिसमस का बड़ा महत्व है। यह पर्व उनके आस्था से जुड़ा होता है। इस मौके पर दुनिया के गिरजाघरों में प्रभु यीशु की झांकियां प्रस्तुत की जाती हैं। गिरजाघरों में प्रार्थना […]

नए कृषि कानून को लेकर मचे हंगामा का सच

Analysis of Farmer Protest

कृषि कानून को लेकर देश में हंगामा मचा हुआ है। सरकार का कहना है कि नए कृषि कानून से किसानो की आमदनी दोगुणी हो जायेगी। दूसरी ओर कई किसान संगठन इस कानून को वापिस लेने […]

कोरोना के डिप्रेसन में सुसाइड करने की प्रवृत्ति

Covid 19 and Lockdown Impact on Japan

आपको जान कर हैरानी होगी कि जापान में इस वर्ष यानी 2020 के अक्टूबर महीने में 2,153 लोगो ने आत्महत्या कर लिया है। जीहां, मात्र एक महीने में 2,153 लोगो का आत्महत्या करना चौका देता […]

पश्चिम बंगाल की राजनीतिक हिंसा में छिपा है जीत का समीकरण

West Bengal Assembly Election Preanalysis

पश्चिम बंगाल में वाम से श्रीराम तक करबट बदलती राजनीति और राजनीतिक हिंसा की सुर्खियों के बीच वर्ष 2021 में विधानसभा का चुनाव होना है। टीएमसी के लिए सत्ता में वापसी करना चुनौती होगा। वहीं […]

बिहार सरकार का इकबाल सवालो के घेरे में

Credibility of New Nitish Kumar Government is in Doubt

बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए की वापसी हो चुकी है। पहली बार सात रोज की सरकार चलाने वाले नीतीश कुमार सातवीं बार बिहार में मुख्यमंत्री की शपथ लेकर इतिहास रच दिएं। अब […]

बिहार के जनादेश में छिपा है बड़ा संकेत

Bihar Elections Post Analysis

बिहार में विधानसभा 2020 का जनादेश एनडीए के पक्ष में आ चुका है। हालांकि, इसमें कुछ अनकहे संदेश भी है। सबसे बड़ा सबाल तो ये कि सरकार की आयु कितने दिनो की होगी। जनादेश में […]

बिहार के हसनपुर सीट की दिलचस्प कहानी

Post Election Analysis Hasanpur Seat

बिहार के समस्तीपुर जिले का हसनपुर सीट। राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव हसनपुर से चुनावी मैदान में है और दूसरे चरण के लिए 3 नवम्बर को यहां मतदान हो चुका है। […]

उत्तर बिहार के 78 सीटो पर बनते बिगड़ते समीकरण का सच

Tirhut and Buxar Region analysis in context of bihar election 2020

चुनावी समीक्षा की चौथी कड़ी में भोजपुर और तिरहुत के 78 विधानसभा सीटो की पड़ताल करेंगे। इसमें भोजपुर, सारण, गोपालगंज और सिवान जिला के 31 सीट और तिरहुत के मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपरण, पश्चिम चंपारण, सीतामढ़ी, […]

मगध और अंग के 38 सीटो पर अंतिम क्षणो में गणित बिगड़ने का है खतरा

Bihar Assembly Election Analysis in Context of Magadh and Anga region

बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर बनते बिगड़ते समीकरण का खेल पूरे शबाब  पर है। सत्ताधारी एनडीए और महागठबंधन के बीच निर्णायक लड़ाई तय मानी जा रही है। हालांकि, पप्पू यादव और उपेन्द्र कुशवाहा की अगुवाई […]

आंकड़ो में छिपा है मिथिलांचल के मतदाताओं का मिजाज

Bihar Election 2020 Mithilanchal Analysis

पहली कड़ी में सीमांचल के 24 विधानसभा सीटों की सियासी गुणा गणित को टटोलने की कोशिश की थीं। आज दूसरी कड़ी में मिथिलांचल के 30 सीटो पर बनते बिगड़ते समीकरण को खंगालने की कोशिश करेंगे। […]

सीमांचल की सीटो पर समीकरण दरकने का है खतरा

Bihar Election 2020 Simanchal Analysis

बिहार की राजनीति में सीमांचल की महत्वपूर्ण भूमिका से किसी को इनकार नहीं है। यह वो इलाका है, जिसे बिहार के राजनीतिक समीकरण का आधार माना जाता है। जानकार मानते है कि इस बार सीमांचल […]