बिहार के हसनपुर सीट की दिलचस्प कहानी

Post Election Analysis Hasanpur Seat
Featured Video Play Icon

बिहार के समस्तीपुर जिले का हसनपुर सीट। राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव हसनपुर से चुनावी मैदान में है और दूसरे चरण के लिए 3 नवम्बर को यहां मतदान हो चुका है। नतीजा, इस सीट पर पूरे बिहार की नजर है। तेजप्रताप यादव के हसनपुर से चुनाव लड़ने की दिलचस्प कहानी है। दरअसल, यह एक महज संयोग नहीं। बल्की, एक रणनीति भी है। तेज प्रताप यादव इस बार हसनपुर कैसे पहुंच गए? इस सवाल का जवाब तलासेंगे। इससे पहले आपको बतादें कि समस्तीपुर को जेडीयू को गढ़ माना जाता है। तेज प्रताप यादव के हसनपुर से चुनाव मैदान में उतरने से समस्तीपुर के राजद कार्यकर्ताओं के हौसले में अंगराई भरने की उम्मीद है और इसका लाभ समीप के दूसरे सीट पर पड़ने का कयास लगाया जा रहा है। जानकार मानते है कि पिछले एक दशक की राजनीति में पहली बार जेडीयू यहां सकते में है। इस राजनीति को भी समझेंगे। इससे पहले हसनपुर को समझने के लिए देखिए पूरी रिपोर्ट…

KKN लाइव टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है, खबरों की खबर के लिए यहां क्लिक करके आप हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं।

हमारे एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। हमारे सभी खबरों का अपडेट अपने फ़ेसबुक फ़ीड पर पाने  के लिए आप हमारे फ़ेसबुक पेज को लाइक कर सकते हैं, आप हमे  ट्विटर और इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर सकते हैं। वीडियो का नोटिफिकेशन आपको तुरंत मिल जाए इसके लिये आप यहां क्लिक करके हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *