कोरियाई प्रायद्वीप में अमन और शांति के संकेत

कोरिया। पिछले छह दशक से जबरदस्त तनाव झेल रहे कोरियाई प्रायद्वीप में अब युद्ध के बादल छटने लगे है। उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने पहली बार अपने देश की सीमा पार कर दक्षिण कोरिया में प्रवेश किया और यहां दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन ने उनका स्वागत करके इतिहास रच दिया है।

दोनों देशों के शीर्ष नेताओं के बीच हुई इस ऐतिहासिक शिखर वार्ता के दौरान उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम समेत कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई है। स्मरण रहें कि 1953 में कोरियाई युद्ध के बाद दक्षिण कोरिया में प्रवेश करने वाले उन उत्तर कोरिया के पहले शासक बन गये हैं। इस मुलाकात के बाद अब आगे उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच अहम बैठक होने वाली है। इससे पहले किम ने चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से गुप्त मुलाक़ात की थी। माना जा रहा है कि इस शिखरवार्ता में दोनो देश ने एक दूसरे पर हमला नही करने का समझौता किया है।

KKN लाइव टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है, खबरों की खबर के लिए यहां क्लिक करके आप हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं।

हमारे एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। हमारे सभी खबरों का अपडेट अपने फ़ेसबुक फ़ीड पर पाने  के लिए आप हमारे फ़ेसबुक पेज को लाइक कर सकते हैं, आप हमे  ट्विटर और इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर सकते हैं। वीडियो का नोटिफिकेशन आपको तुरंत मिल जाए इसके लिये आप यहां क्लिक करके हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *