पूर्व केंद्रीय मंत्री और बिहार के कद्दावर नेता डॉ. रघुवंश प्रसाद सिंह नहीं रहे

बिहार में शोक की लहर

KKN न्यूज ब्यूरो। पूर्व केंद्रीय मंत्री और बिहार के दिग्गज नेताओं में शूमार रहे डॉ. रघुवंश प्रसाद सिंह का आज निधन हो गया। उन्होंने दिल्ली के एम्स में अंतिम सांसें ली। बिहार की राजनीति में ब्रह्मबाबा के नाम से प्रसिद्ध पूर्व केंद्रीय मंत्री को कुछ दिन पहले ही दिल्ली एम्स में भर्ती किया गया था। उनको सांस लेने में तकलीफ होने लगा था।
पिछले कई दिनों से रघुवंश सिंह की हालत लगातार नाजुक बनी हुई थी। उनको सांस लेने में भी दिक्कत हो रही थीं। अस्पताल के आइसीयू में रघुवंश बाबू चार डॉक्टरो की निगरानी में थे। किंतु, उनको बचाया नहीं जा सका। रविवार सुबह तक रघुवंश बाबू वेंटिलेटर पर थे। हालांकि, उनकी स्थिति नाजुक बनी हुई थीं। मालूम हो कि रघुवंश प्रसाद सिंह का इलाज 4 अगस्त से ही दिल्ली स्थित एम्स में चल रहा था और वो पिछले चार दिनों से वेंटिलेटर पर थे। फिलहाल उनके निधन से पूरे बिहार में शोक की लहर है। लोग कहने लगे है कि समाजवाद की राजनीति में आई शून्यता को भरना अब मुश्किल होगा।

आरजेडी से दिया था इस्तीफा

करीब चार दशक तक आरजेडी की राजनीति से जुड़े रहने के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह ने कुछ दिन पहले की आरजेडी से इस्तीफा दे दिया था। दिल्ली एम्स में भर्ती रघुवंश प्रसाद सिंह ने अपना इस्तीफा एक सामान्य पन्ने पर लिखकर भेजा था। इसमें उन्होंने आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को संबोधित करते हुए लिखा था कि जननायक कर्पूरी ठाकुर के निधन के बाद 32 वर्षों तक आपके पीछे-पीछे खड़ा रहा, लेकिन अब नहीं…। पार्टी नेता, कार्यकर्ता और आमजनों ने बड़ा स्नेह दिया। मुझे क्षमा करें… हालांकि, आरजेडी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद ने उनका इस्तीफा मंजूर करने से इनकार कर दिया था।

KKN लाइव टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है, खबरों की खबर के लिए यहां क्लिक करके आप हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं।

हमारे एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। हमारे सभी खबरों का अपडेट अपने फ़ेसबुक फ़ीड पर पाने  के लिए आप हमारे फ़ेसबुक पेज को लाइक कर सकते हैं, आप हमे  ट्विटर और इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर सकते हैं। वीडियो का नोटिफिकेशन आपको तुरंत मिल जाए इसके लिये आप यहां क्लिक करके हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *