पचास करोड़ नहीं दिया तो पार्टी से निकाला : नसीमुद्दीन

राजनीति के हमाम से निकला एक और बुलबुला

उत्तर प्रदेश। बसपा से निष्कासित नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने बसपा सुप्रीमो मायावती पर 50 करोड़ रुपये मांगने का गंभीर आरोप लगाया है। नसीमुद्दीन की माने तो मायावती ने कहा कि जैसे भी हो पैसा लाओ, तभी पार्टी में आगे बढ़ पाओगे। भले ही तुम्हें इसके लिए अपनी संपत्ति ही क्यों न बेचनी पड़े। नसीमुद्दीन ने कहा कि रुपये नही देने से गुस्साई मायावती ने चुनाव के बाद मुझे बुला कर कहा कि मुसलमान गद्दार होता हैं। इसके बाद मायावती ने कहा कि विधानसभा चुनावों में अपर कास्ट, पिछड़े वर्ग के मतदाताओं ने भी बसपा को वोट नहीं दिया। इसके साथ दलितों में धोबी, सोनकर, पासी और कोरी ने भी बसपा को वोट नहीं दिया।

KKN लाइव टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है, खबरों की खबर के लिए यहां क्लिक करके आप हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं।

हमारे एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। हमारे सभी खबरों का अपडेट अपने फ़ेसबुक फ़ीड पर पाने  के लिए आप हमारे फ़ेसबुक पेज को लाइक कर सकते हैं, आप हमे  ट्विटर और इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर सकते हैं। वीडियो का नोटिफिकेशन आपको तुरंत मिल जाए इसके लिये आप यहां क्लिक करके हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर लें।