पुलिस वाले का बेटा था आतंकी

फिदायीन बनाने के लिए हुआ था ब्रेन वॉश

जम्मू कश्मीर। पुलवामा में सीआरपीएफ कैंप पर हुए आतंकी हमले में मारा गया तीन में से आतंकी पुलिस कॉन्स्टेबल का बेटा था। बतातें चलें कि इस हमले में पांच सैनिक शहीद हो गए। जवाबी कार्रवाई में तीन आतंकवादी भी मारे गए। यह हैरान कर देने वाली बात इसलिए है, क्योंकि तकरीबन एक दशक बाद कोई कश्मीरी फिदायीन बना है।

इससे पहले जम्मू-कश्मीर में करीब15 वर्षो से विदेशी आतंकी ही फिदायीन हमले में शामिल होते रहे हैं। शनिवार को मारे गए तीनों आतंकियों में फिदायीन हमलावर की पहचान 17 साल के फरदीन अहमद खानडे के रूप में हुई है। फरदीन अहमद के पिता गुलाम मोहम्मद खानडे जम्मू-कश्मीर पुलिस में कॉन्स्टेबल के पद पर तैनात हैं।

KKN लाइव टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है, खबरों की खबर के लिए यहां क्लिक करके आप हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं।

हमारे एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। हमारे सभी खबरों का अपडेट अपने फ़ेसबुक फ़ीड पर पाने  के लिए आप हमारे फ़ेसबुक पेज को लाइक कर सकते हैं, आप हमे  ट्विटर और इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर सकते हैं। वीडियो का नोटिफिकेशन आपको तुरंत मिल जाए इसके लिये आप यहां क्लिक करके हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *