पेड़ से लटका मिला प्रेमी युगल का शव, हत्या या आत्महत्या?

पोस्टमार्टम रिपोर्ट से होगा खुलाशा

KKN न्यूज ब्यूरो। बिहार के मुजफ्फरपुर जिला अन्तर्गत मीनापुर थाना के छेगननेउरा गांव से सटे एक लीची बगान से प्रेमी युगल का शव बरामद होते ही शनिवार की अहले सुवह इलाके में सनसनी फैल गयी। दोनो एक साथ गले में प्लास्टिक के रस्सी से बंधा हुआ लीची के पेड़ से लटका मिला है। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनो शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए एसकेएमसीएच भेज दिया है। मीनापुर के थाना अध्यक्ष राज कुमार ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा कि प्रेमी युगल ने आत्महत्या की है या दोनो की हत्या हुई है?
घटना को लेकर गांव में कई तरह की चर्चा है। बताया गया कि शुक्रवार की रात छेगननेउरा गांव की लड़की अपने घर में सोई थीं। उसकी मां बताती है कि रात करीब तीन बजे में उसकी नींद खुली तो लड़की अपने विस्तर पर नहीं थी। कुछ देर तक उसके लौटने का इंतजार करते हुए सुबह हो गया और लोगो ने लीची बगान में शव होने की जानकारी दी। लीची का यह बगान युवती के घर से करीब 700 मीटर की दूरी पर है। दूसरी ओर रामसहाय छपरा गांव की रहने वाली मृतक की मां पानो देवी बताती है कि घर से सटे डेरा पर उनका बेटा छोटू खुले में सोया था। सुबह नींद खुली तो वह अपने विस्तर पर नहीं था और थोड़ी देर के बाद ही लीची बागान में लाश मिलने की सूचना आ गयी। बतातें चलें कि दोनो का घर आमने-सामने सटा हुआ है।
परिजनो ने एक दुसरे पर हत्या का आरोप लगाना शुरू कर दिया है। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक पेड़ पर लटके युवक और युवती का पैर जमीन से सट रहा था। इससे ऐसा प्रतीत होता है कि किसी ने हत्या करने के बाद दोनो के शव को पेड़ से लटका दिया होगा। फिलहाल पुलिस इस दिशा में जांच शुरू कर चुकी है। हालांकि, पुलिस के अधिकारी इस संबंध में खुल कर कुछ भी बताने से इनकार कर दिया है। जबकि, युवती की मां कहती है कि एक सप्ताह पहले ही छोटू का बड़ा भाई धमकी देकर गया था। इधर, मृतक छोटू का बड़ा भाइ आमोद कुमार ने युवती के बडे भाई पर हत्या की धमकी देने का आरोप लगाया हैं। हालांकि, अभी एफआईआर दर्ज होना बाकी है।

अगले महीने होना था युवती का विवाह

छेगननेउरा के प्रेमी युगल की रहस्यमयी मौत को लेकर गांव में जितने मुंह उतनी बातें कही जा रही है। फिलहाल जो बातें छन कर आ रही है, उसके मुताबिक दोनो का अलग- अलग विवाह तय हो चुका था। युवती अपने बहनो में सबसे छोटी थीं और इसी वर्ष के 20 जून को उसका विवाह होना था। जबकि, बीते मार्च महीने में छोटू का देखा-सुनी हो चुका था। लॉकडाउन की वजह से विवाह की तारीख तय होना अभी बाकी था।
इधर, मृतक के बड़े भाई और ट्रक का चालक आमोद की माने तो उसका छोटा भाई छोटू बंगलोर में मजदूरी करता था और होली के मौके पर घर आया था। लॉकडाउन की वजह से वह अपने काम पर दुबारा लौट नहीं सका। इस बीच पिछले एक महीने से वह अपने बड़े भाई के साथ ट्रक पर ही काम करने लगा था। आमोद की माने तो शुक्रवार की दोपहर में खेत जोतने के लिए वह घर आया था और शनिवार की सुबह उसका शव पेड़ से लटका हुआ मिला। आमोद बतातें हैं कि मात्र पांच महीने पहले ही मां से पता चला था कि उनके छोटे भाई का पड़ोस की एक लड़की के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा है।
दुसरी ओर युवती की मां ने बतायी कि उनकी बेटी घर में चौकी पर सोयी थी और घर खुला हुआ था। उनका कहना है कि उनके बेटी को घर से जबरन उठा कर हत्या करके शव को पेड़ से लटका दिया गया है। वह कहती है कि लड़का वालो की ओर से लगातार धमकी मिल रहा था। एक सप्ताह पहले भी बेटी को घर से उठा कर हत्या कर देने की धमकी मिला था। पुलिस को इसकी सूचना क्यों नहीं दी? इस सवाल पर वह कहती है कि पुलिस बड़े लोगो के मेल में आ जाती है और गरीबो की नहीं सुनती। पहले भी इस तरह की कई घटनाएं हो चुकी है।
इधर, यहीं बात युवक की मां भी कहती है। इनका कहना है कि युवती का बड़ा भाई अक्सर कहता था कि तुम्हारे बेटा को मार कर पेड़ से लटका देंगे। आखिरकार यही हुआ भी। ऐसे में बड़ा सवाल ये कि कौन सच बोल रहा है और कौन झूठ? इसका खुलाशा पुलिस की जांच पूरी होने के बाद ही हो पायेगा। फिलहाल तो दोनो घर में मातम पसरा है और गांव के लोग खामोश है।

KKN लाइव टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है, खबरों की खबर के लिए यहां क्लिक करके आप हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं।

हमारे एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। हमारे सभी खबरों का अपडेट अपने फ़ेसबुक फ़ीड पर पाने  के लिए आप हमारे फ़ेसबुक पेज को लाइक कर सकते हैं, आप हमे  ट्विटर और इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर सकते हैं। वीडियो का नोटिफिकेशन आपको तुरंत मिल जाए इसके लिये आप यहां क्लिक करके हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *