भारत में कोरोनारोधी टीका लगाने की प्रगति निर्धारित लक्ष्य से बहुत पीछे

दिसम्बर तक लक्ष्य पूरा करने के लिए प्रत्येक दिन देना होगा 92 लाख खुराक

KKN न्यूज ब्यूरो। भारत में इस वर्ष दिसम्बर के अंत तक सभी को कोरोनारोधी टीका लगाने का लक्ष्य पूरा करना मुश्किल प्रतीत होता है। सरकार ने साल के अंत तक 18 साल और उससे ऊपर की 100 फीसदी आबादी को कोरोना रोधी टीका लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया हुआ है। किंतु, इसके लिए देश में 92 लाख खुराक प्रत्येक दिन देना होगा। जो, फिलवक्त मुमकिन प्रतीत नहीं हो रहा है। आंकड़ो पर गौर करें तो इस साल के 21 जून को सर्वाधिक 88 लाख डोज लगाकर सरकार ने एक रिकॉर्ड बनाया था। जबकि, बाद के दिनो में यह आंकड़ा काफी नीचे चला गया है। टाइम्स ऑफ इंडिया ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि साल 2021 में भारत में व्यस्कों की आबादी करीब 94 करोड़ है। इसका मतलब है कि इन लोगों के लिए देश में 188 करोड़ टीके की खुराकें चाहिए। जुलाई के आखिर तक देश में टीके की 47 करोड़ खुराक दी गई हैं। यानी अब बचे साल के 153 दिनों में 141 करोड़ खुराकें देनी होंगी। यह तभी मुमकिन है, जब प्रत्येक दिन देश में 92 लाख खुराकें दी जाये। इस लिहाजा से यूपी में प्रत्येक दिन 16.1 लाख खुराकें देनी होंगी। इसी तरह बिहार में प्रत्येक दिन औसतन 8 लाख खुराकें मुहैया करानी होंगी। इस बीच केन्द्र की सरकार ने यह संकेत दिए थे कि अगस्त में देश को टीके की 15 करोड़ अतिरिक्त खुराकें दी जायेगी और सितंबर में इसको बढ़ा कर 20 करोड़ डोज करना शामिल है।

KKN लाइव टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है, खबरों की खबर के लिए यहां क्लिक करके आप हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं।

हमारे एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। हमारे सभी खबरों का अपडेट अपने फ़ेसबुक फ़ीड पर पाने  के लिए आप हमारे फ़ेसबुक पेज को लाइक कर सकते हैं, आप हमे  ट्विटर और इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर सकते हैं। वीडियो का नोटिफिकेशन आपको तुरंत मिल जाए इसके लिये आप यहां क्लिक करके हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *