बिहार के गांवो में कभी भी हो सकता है कोरोना विस्फोट

Inki Suniye Episode on Corona Crisis
Featured Video Play Icon

बिहार में कोरोना का मीटर तेजी से बढ़ रहा है। गांव की स्थिति शहर से भी अधिक खराब है। तैयारी के नाम पर स्थानीय प्रशासन महज खानापूर्ति करने में लगी है। अव्वल तो जांच नहीं होता। यदि हो गई, तो रिपोर्ट आने में सप्ताह बीत जाता है। सैनेटाइजेशन और मास्क की गांव में रश्म अदायिगी भी ठीक से करने को कोई तैयार नहीं है। गांव के हाट-बाजार में सोशल डिस्टेंस महज तकिया-कलाम बन कर रह गया है। ऐसे में हालात बेकाबू हुआ तो क्या होगा? इसी विषय पर केकेएन लाइव के ऑन लाइन परिचर्चा में शामिल हुये समाजिक कार्यकर्ता पूर्व मुखिया मो. सदरुल खां, शिक्षक दिलिप कुमार, समाजिक राजनीतिक कार्यकर्ता सोनू कुमार और पत्रकार कृष्णमाधव सिंह। देखिए, पूरी रिपोर्ट…

KKN लाइव टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है, खबरों की खबर के लिए यहां क्लिक करके आप हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं।

हमारे एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। हमारे सभी खबरों का अपडेट अपने फ़ेसबुक फ़ीड पर पाने  के लिए आप हमारे फ़ेसबुक पेज को लाइक कर सकते हैं, आप हमे  ट्विटर और इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर सकते हैं। वीडियो का नोटिफिकेशन आपको तुरंत मिल जाए इसके लिये आप यहां क्लिक करके हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *