कोठे का धंधा, दासता नही तो और क्या

कोठे का धंधा, दासता नही तो और क्या
Featured Video Play Icon

भारत में देह व्यापार का धंधा हथियार की तस्करी और ड्रग्स के अवैध कारोबार के बाद तिसरा बड़ा अवैध कारोबार है। विश्व के करीब 20 लाख किशोरी या महिलाएं आज इस कारोबार जुड़ी है। आज यह कारोबार फैल कर करीब 32 बिलियन से उपर जा चुका है और यह हमारे सभ्य समाज के लिए कलंक बन चुका है। इसका सबसे दुखद पहलू ये कि इस पूरे कारोबार में 80 फीसदी किशोरियो की उम्र 15 वर्ष से कम है।

KKN लाइव टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है, खबरों की खबर के लिए यहां क्लिक करके आप हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं।

Leave a Reply