एक छात्रा ने सम्भाली दो घंटे की थानेदारी

उत्तर प्रदेश। दो घंटे की थानेदारी, वह भी एक छात्रा को…। जीहां, यह कोई कहानी नही। बल्कि, हकीकत है। इलाहाबाद जिले के खुल्दाबाद थाने में विधि की छात्रा रबीश्री राजे को दो घंटे के लिए पुलिस ने एसओ की जिम्मेदारी सौंपी दी। थानेदार बनते ही छात्रा ने अपने दो घंटे के कार्यकाल में न केवल कामकाज निबटाया। बल्कि, कई चौकाने वाले निर्णय भी लिए।
दो घंटे के इस थानेदार ने कई पुलिस कर्मियों का अवकाश स्वीकृत कर दिया और कई लम्बित मामलों की जांच में तेजी लाने का भी आदेश दिया। इस दौरान विधि की छात्रा रबीश्री राजे ने पुलिस अधिकारियों के साथ थाने का भी निरीक्षण किया और पुलिस की कार्यप्रणाली को समझने की कोशिश की।

बाद में विधि छात्रा रबीश्री राजे ने अपने अनुभव बताते हुए कहा कि पुलिस कर्मी बेहद कठिन परिस्थितियों में जनता की सेवा करते हैं। इसके साथ ही वे भी आम लोगों की ही तरह हैं। लिहाजा, जनता से पुलिस के बीच दूरी भी खत्म होनी चाहिए। पुलिस बल में महिला कर्मियों की कमी को लेकर विधि छात्रा रबीश्री राजे ने कहा है कि पुलिस में महिला कर्मियों की अधिक से अधिक भर्ती होनी चाहिए।