एक राष्ट्र एक चुनाव पर बनेगी समिति

दिल्ली में हुआ सर्वदलीय बैठक

भारत में एक राष्ट्र, एक चुनाव के मुद्दे पर विचार करने लिए शीघ्र ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक समिति का गठित करेंगे। यह समिति निश्चित समय-सीमा में अपनी रिपोर्ट देगी। बुधवार को पीएम मोदी की अगुवाई में दिल्ली में आयोजित सर्वदलीय बैठक में यह निर्णय लिया गया है। गौरतलब है कि पीएम मोदी ने लोकसभा और सभी विधानसभाओं का चुनाव एक साथ कराने तथा महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के आयोजन सहित अन्य मुद्दों पर सर्वदलीय बैठक बुलायी थी।

बीजद ने किया समर्थन

बीजू जनता दल के मुखिया और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने देश में लोकसभा एवं विधानसभा चुनाव एक साथ कराए जाने का समर्थन किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में शामिल होने के बाद पटनायक ने कहा कि उनकी पार्टी इस विचार का समर्थन करती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने संविधान की प्रस्तावना में शांति एवं अहिंसा जैसे शब्द को जोड़ने का सुझाव दिया है।

कॉग्रेस ने किया बहिष्कार

कॉग्रेस सर्वदलीय बैठक में शामिल नहीं हुई है। कॉग्रेस के प्रवक्ता ने कहा कि अगर सरकार चुनाव सुधारों को लेकर कोई कदम उठानी चाहती है तो वह पहले संसद में इस विषय पर चर्चा कराए। पार्टी सांसद गौरव गोगोई ने लोकसभा एवं राज्यों की विधानसभा के एकसाथ चुनाव कराने को लेकर भाजपा पर दोहारा मापदंड अपनाने का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को बैठक में शामिल होने का निमंत्रण मिला था। लेकिन वह खेद प्रकट करते हुए इसमें शामिल नहीं हुए।

KKN लाइव टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है, खबरों की खबर के लिए यहां क्लिक करके आप हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं।

हमारे एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। हमारे सभी खबरों का अपडेट अपने फ़ेसबुक फ़ीड पर पाने  के लिए आप हमारे फ़ेसबुक पेज को लाइक कर सकते हैं, आप हमे  ट्विटर और इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर सकते हैं। वीडियो का नोटिफिकेशन आपको तुरंत मिल जाए इसके लिये आप यहां क्लिक करके हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *