नाग की मौत पर नागिन का चढा तेवर

सातवीं बार  डंसा युवक को…

संतोष कुमार गुप्ता

अजमेर। आपने अब तक नागिन, नाचे नागिन गली गली और निगांहे जैसी फिल्मे देखी होगी। जिसमे नाग और नागिन की प्रेम कहानी इंसानो के लव स्टोरी को भी पीछे छोड़ देती है।आपने अब तक सुना होगा कि नाग को मारने वाले से नागिन बदला लेती है। ये कहानी आपने फिल्मों या टीवी सीरियलों में देखा होगा। लेकिन यह सुनकर शायद आपको अचरज हो कि रील लाइफ की यह कहानी एक युवक के साथ रीयल लाइफ में भी घटित हो रही है। लेकिन यहां कहानी में दिलचस्प बात यह है कि नाग को किसी और ने मारा जबकि नागिन गलतफहमी का शिकार बनकर किसी और से बदला लेने पर तुली हुई है। नागिन ने युवक को एक दो नहीं बल्कि सात बार निशाना बनाया और खुशकिस्मती से हर बार युवक की जान बच गई। युवक इस बात से परेशान है कि आखिर नाग को जब किसी ओर ने मारा तो नागिन उससे बदला लेने पर क्यों तुली है और नागिन का उसके साथ यह खेल कब खत्म होगा?
जानकारी के अनुसार अजमेर के नरसिंहपुरा में रहने वाले मुकेश को बुधवार को फिर नागिन ने डस लिया। उसे परिजनों ने इलाज के लिए जवाहरलाल नेहरु अस्पताल में भर्ती कराया है। मुकेश इससे पहले भी छह बार नागिन के डसने के बाद इसी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती हुआ था।

मुकेश से नागिन के बदला लेने की कहानी लगभग चार साल पहले फॉय सागर रोड से शुरू हुई थी, जहां वह ठेला लगाकर कपड़ों पर प्रेस करने का काम करता है। एक दिन मुकेश के ठेले के पास कुछ लोगो ने एक सांप को मार कर फैक दिया। हिन्दू परम्पराओं में विश्वास करने वाले मुकेश ने उस सांप का अंतिम संस्कार अपने ठेले के पास ही कर दिया और फिर यहीं से शुरू हुई नागिन के बदले की कहानी।
नागिन की गलतफहमी का शिकार अब मुकेश हो रहा है। मुकेश के परिवार वालो की माने तो शायद नागिन ने नाग का हत्यारा मुकेश को समझ लिया है और बदला लेने के लिए मुकेश को मौत के घाट उतारने पर तुली है। मुकेश के परिवार की माने तो नागिन इस बदले को किसी भी कीमत पर लेना चाहती है। बताया जा रहा है की मुकेश को इस नागिन ने पांच बार उसके ठेले के पास ही अपना शिकार बनाया, वही दो बार नागिन उसके घर तक पहुच गई और घर के अंदर ही उसे डस लिया

हर बार नागिन का शिकार हुए मुकेश को समय पर चिकित्सा मिलने से उस की जान बचती रही है। लेकिन आखिर यह सिलसिला कब थमेगा। इसी सवाल का जवाब ढूंढने और मुकेश को नागिन से बचाने के लिए परिवार वालो ने तांत्रिक से लेकर झाड़-फूंक करने वालों तक के चक्कर काटे, लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। फिलहाल मुकेश को आज एक बार फिर नागिन ने अपना शिकार बनाया है। मुकेश की जान इस बार भी बचाने की डॉक्टर कोशिश कर रहे हंै। अब मुकेश को भी लगने लगा है की यदि वो नागिन से बच भी गया तो एक दिन कहीं नागिन का खौफ ही उसकी जान ना ले ले।

KKN लाइव टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है, खबरों की खबर के लिए यहां क्लिक करके आप हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं।