गरीबो की आवाज को केंद्र सरकार कुचलने का कर रही प्रयास

​मायावती के अपमान को  लेकर फूटा लोगो का गुस्सा

पीएम नरेंद्र मोदी व अमीत शाह का फूंका पुतला

 

संतोष कुमार गुप्ता

मीनापुर। राज्यसभा मे मायावती के अपमान को लेकर अनुसुचित जाति व दलितो का गुस्सा फूट पड़ा है। मायावती के समर्थन मे अनुसूचित जाति के लोगो ने सोमवार को प्रखण्ड मुख्यालय पर आक्रोशपूर्ण धरना प्रदर्शन किया। साथ ही प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी व भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित साह का पुतला फूंका।  सभा को सम्बोधित करते हुए विधायक मुन्ना यादव ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार ने मायावती के साथ अपमान कर पुरे देश के अनुसुचित जाति के लोगो के साथ भद्दा मजाक किया है। पीएम नरेंद्र मोदी के निशाने पर सिर्फ बहन मायावती ही नही है। बल्कि वह लोग भी निशाने पर है,जहां भाजपा सत्ता मे नही है। केंद्र सरकार की घटिया नीति का विरोध करने वालो को तंग किया जा रहा है। लालू यादव व उनके पुरे परिवार को झूठा आरोप लगा कर फंसाया जा रहा है। गरीबो के आवाज को दबाने का कुत्सित प्रयास हो रहा है। इसका माकूल जबाब 27 अगस्त को पटना के गांधी मैदान मे आहूत भाजपा भगाओ देश बचाओ रैली मे दिया जायेगा। पूर्व विधायक जनकधारी प्रसाद कुशवाहा ने  केंद्र सरकार पर दलित विरोधी होने का आरोप भी लगाया। उन्होंने कहा कि राज्य सभा सांसद मायावती को भाजपाइयों ने सदन में अपनी बात तक रखने का मौका नही दिया । यह लोकतंत्र का घोर अपमान है । इस अपमान को बर्दाश्त नही किया जाएगा । जरूरत पड़ी तो आंदोलन का शंखनाद मीनापुर से ही किया जायेगा। जदयू नेता शिवचंद्र प्रसाद ने भाजपा को भारत जलाओ पार्टी की संज्ञा दी। सभा की अध्यक्षता जवाहर राम ने किया। सभा को पूर्व प्रमुख राजगीर राम, राजद के प्रखण्ड अध्यक्ष उमाशंकर सहनी,रमेश यादव,सच्चिदानंद कुशवाहा,मुस्तफा राही,छोटेलाल यादव, मुखिया रामप्रीत राम, पूर्व जिला पार्षद शैल देवी, पंसस पूजा देवी, पूर्व मुखिया गणेश राम, पूर्व पंसस जवाहर राम, वार्ड सदस्य सुरेश राम, जयप्रकाश राम, नंदकिशोर राम, कमल किशोर बैठा, रामसागर राम, भिखारी राम, चनरदेव मांझी, गणेश पासवान, चुल्हाई राम व राजमंगल राम,सेवानिवृत शिक्षक सकलदेव प्रसाद ने सम्बोधित किया।