बेकार प्लास्टिक बोतलो से बनाया बाढ बचाव जैकेट

​हरशेर के किसान विनोद कुमार ने किया कमाल

नौका व संसाधन के कमी के कारण किया नया इजाद

 

संतोष कुमार गुप्ता

मीनापुर। जहां एक ओर मीनापुर मे बाढ से आम जनता त्राही त्राही कर रही है। नाव की किल्लत के कारण सुरक्षित स्थानो की ओर नही जा सकते है। एनडीआरएफ की टीम भी आखिर कहां कहां जाये। इसी बीच हरशेर पंचायत के सोढना माधोपुर गांव के विनोद कुमार ने बेकार पड़े प्लास्टिक की खाली बोतलो से बाढ बचाव जैकेट तैयार किया है। यह जैकेट पहनने से लोग पानी मे नही डूब सकेंगे। यह जैकेट का इलाके मे जबर्दस्त चर्चा हो रही है। किसान विनोद कुमार बताते है कि इस जैकेट को दर्जनो लोग पानी मे पहन कर उतर चुके है। बांध टूटने या पानी के तेज बहाव से भी यह जैकेट लोगो की रक्षा करेगा। यह जैकेट पहनने से लोग पानी की तेज धारा मे बह सकता है किंतु डूब नही सकता। बाढ बचाव कार्य मे भी यह प्रभावकारी साबित हो सकता है। इसको बनाने के लिए सारा समाग्री भी गांव मे ही उपलब्ध है। चार मीटर टेरीकॉटन कपड़ा,छह प्लास्टिक का बड़ा बोतल का जुगाड़ करना है। बोतल का मुंह नीचे रखना है। नीचे का डोरी जांघ को मजबूत तरीके से पकड़ कर रखे। ताकि जैकेट शरीर को छोड़ नही पाये। बोतल मे एयर होने के कारण आदमी डूब नही पायेगा। केले के थम्ब से बने बेड़ा पर भी इसका उपयोग किया जा सकता है।

KKN लाइव टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है, खबरों की खबर के लिए यहां क्लिक करके आप हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं।

हमारे एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। हमारे सभी खबरों का अपडेट अपने फ़ेसबुक फ़ीड पर पाने  के लिए आप हमारे फ़ेसबुक पेज को लाइक कर सकते हैं, आप हमे  ट्विटर और इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर सकते हैं। वीडियो का नोटिफिकेशन आपको तुरंत मिल जाए इसके लिये आप यहां क्लिक करके हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *