टीचर ने लड़के के टॉयलेट में लड़की को खड़ा किया 

राजकिशोर प्रसाद
हैदराबाद की एक मसहूर स्कूल के पीटी टीचर ने स्कुल यूनिफार्म ड्रेस सही तरह से पहनकर स्कुल में नही आने पर एक लड़की को खीचकर लड़के के टॉयलेट तक ले गई और उसमें खड़ा रहने की सजा सुना दी। लड़के के टॉयलेट में लड़की को देख लड़के मजाक उड़ाने लगे और लड़की को अपमानित होना पड़ा। कुछ देर बाद टीचर ने उसे क्लास रूम में जाने को कही।
वह पीड़ित लड़की इस सदमे से आहत हो स्कुल से घर लौटने पर रो पड़ी। पूछने पर सारी बाते उक्त लड़की ने अपने माँ बाप को बताई। फिर मामले को पुलिस में ले जाया गया। जहाँ लड़की ने पुलिस को बताई की सही यूनिफार्म पहनकर स्कुल नही जाने पर पी टी टीचर ने मुझे रोका और सही यूनिफार्म पहनकर नही आने का कारण पूछा। मैंने बताई की मेरी माँ ने यूनिफार्म साफ की है। जिस कारण वह गिला था और मई पहनकर आज स्कुल में नही आ सकी। बस टीचर इस बात पर काफी गुस्से में हो गई और मुझे खीचकर लड़के के टॉयलेट में ले गई और मुझे उसमे खड़ा कर दी। पुलिस ने लड़की के बयान पर उक्त स्कुल के प्रिंसिपल और उक्त पी टी टीचर के खिलाफ केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। इधर विभिन्न छात्र संगठनो ने भी उस पी टी टीचर और स्कुल प्रबन्धन के खिलाफ आवाज उठाना शुरू कर दया है। गुरुग्राम के रेयन स्कुल के प्रधुम्न का मामला अभी ठंडा भी न पड़ा है की हैदराबाद की एक स्कुल का यह मामला सामने आ गया है। जो बच्चों के भविष्य गढ़ने वाले बच्चों के साथ घिनौनी हरकत करते है । यह बहुत ही शर्मनाक है।