प्यार हो या पढ़ाई, उम्र की सीमा मायने नही रखती

उम्र के अंतिम पड़ाव पर पहुंच कर लिया स्नातकोत्तर की डिग्री

बिहार। पढ़ाई हो या प्यार… उम्र की कोई सीमा नही होती। अलबत्ता, इसके लिए जज्बा होना चाहिए। इसी जज्बे के साथ एक नया कीर्तिमान बनाया है राजकुमार वैश्य ने। दरअसल, 98 वर्षीय बुजुर्ग राजकुमार ने अर्थशास्त्र में स्नातकोत्तर की डिग्री हासिल की है। बिहार के नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी से उन्होंने 98 साल की उम्र में एमए की उपाधि पाई है और वो भी अर्थशास्त्र में। नालंदा ओपेन यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में राज कुमार को अर्थशास्त्र में स्नातकोत्तर की डिग्री दी गई। इस मौके पर जब उनसे पूछा गया कि वो युवाओं को क्या संदेश देना चाहेंगे तो उन्होंने कहा … हमेशा कोशिश करते रहें।

KKN लाइव टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है, खबरों की खबर के लिए यहां क्लिक करके आप हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं।

हमारे एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। हमारे सभी खबरों का अपडेट अपने फ़ेसबुक फ़ीड पर पाने  के लिए आप हमारे फ़ेसबुक पेज को लाइक कर सकते हैं, आप हमे  ट्विटर और इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर सकते हैं। वीडियो का नोटिफिकेशन आपको तुरंत मिल जाए इसके लिये आप यहां क्लिक करके हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *