Muzaffarpur

बेलगाम हो चुकी है सूबे की पुलिस : वाम संयुक्त मोर्चा

अंग्रेजी हुकूमत की याद दिला गई मनियारी की पुलिस बर्बरता

संजय कुमार सिंह
मुजफ्फरपुर। एक ओर सरकार चम्पारण शताब्दी समारोह मनाकर गांधी के आदर्शो पर चलने की नसीहत दे रही है। वही, दूसरी ओर राज्य की पुलिस अंग्रेजी हुकूमत की याद दिला रही है। ये बातें एसयूसीआई के राज्य सचिव अरूण कुमार सिंह ने महंथ मनियारी हाट में आयोजित संयुक्त वामदलो की ऐतिहासिक प्रतिवाद सभा को संबोधित करते हुए कही।
उन्होंने कहा अपराधी बेलगाम है, भ्रष्टाचार चरम पर है, मजलूमो पर लगातार अत्याचार आम बात हो गई है। महंथ मनियारी में बीते 13 अप्रैल को महज 900 रूपय के लिए एक 12 वर्ष का छात्र सूरज की हत्या हो जाती है। आम जनता वरीय पदाधिकारी के बुलाने की मांग करती है। पर पुलिस अंग्रेजी हुकूमत का परिचय देते हुए उन मासूम लोगों को दौरा दौरा कर कोरे की तरह डंडा बरसाती है। इतना ही नही उनकी आवाज को बंद करने के लिए समाजिक कार्यकर्ता व बेकसूर गांव के लोगों को झुठे मुकदमे में फंसा कर उन्हें प्रतारित करती है।
सीपीआई एमएल के बिहार झारखंड प्रभारी अरविंद सिन्हा ने कहा कि सरकारी मुलाजिम को जन सेवक कहा जाता है। पर, वर्तमान समय में जनता नौकर हो गई है और जन सेवक मालिक के भूमिका में है। अंत में सभी ने एक मत से सूरज के हत्यारे को गिरफ्तार करने व उनके आश्रितो को मुआवजा देने की मांग की है। इसके अतिरिक्त पुलिस से झुठे मुकदमे को वापस लेने की भी मांग की गई। इससे पूर्व सभी प्रखंडो से आय कार्यकर्ता ने प्रतिवाद मार्च निकला। ये कार्यकर्ता मारीपुर, सिलौत, साहेबगंज, मुशहरी सहित अलग अलग जगहो से आए थे। यहां महंथ मनियारी पंचायत में घूम घूम कर लोगों को जागरूक करते हुए सभा स्थल पर पहुंच कर सभा को सफल बनाया।
सभा की अध्यक्षता संयुक्त अध्यक्ष मंडली के तत्वावधान में की गई। इसमें सीपीआई एम के सुन्देश्वर सहनी, एसयूसीआई के बैद्यनाथ पंडित, सीपीआई एमएल के ओम प्रकाश सिंह, भाकपा माले के होरिल राय, एसयूसीआई के चन्द्रमोहन प्रसाद व फॉरवर्ड ब्लॉक के हबीब अंसारी ने की। जबकि, सम्बोधित करने वालो मे अलग अलग वामदलो के संयुक्त कार्यकर्ताओं मे ऑल इण्डिया महिला सांस्कृतिक संगठन की नेत्री साधना मिश्रा, एसयूसीआई के जिला सचिव अर्जुन कुमार, लोकल कमेटी मनियारी के प्रभारी लालबाबू महतो, शत्रुहन सहनी, होरिल राय,अब्दुल गफ्फार, नमिता सिंह, अजिमुल्ला अंसारी, जितेन्द्र चौधरी, बिन्दु देवी, इन्दु देवी, मुखिया साधना झा, दीपक कुमार गुप्ता ने सम्बोधित किया। सभा के दौरान ओलावृष्टि से हुई व्यापक क्षति पर भी सरकार का ध्यान आकृष्ट कराया गया।
वारिश में भी डटे रहे कार्यकर्ता
मनियारी के प्रतिवाद सभा के दौरान आंधी और पानी हुई पर सभा स्थल से एक भी कार्यकर्ता नही हटे। वामपंथ विचारधारा के प्रति कार्यकर्ताओं की इस समर्पण को देख गांव के लोग अचंभित थे। इधर, वामपंथियों के द्वारा आहूत इस सभा को लेकर प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता व्यवस्था किया था। मनियारी थाना पर कई जिले से आए स्पेशल फोर्स को रिजर्व में तैनात किया गया था। दूसरी ओर खुफिया विभाग के अधिकारी भी सभास्थल के एक एक गतिविधि पर नजर गड़ाये बैठे थे।

This post was published on मई 18, 2017 11:14

KKN लाइव टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है, खबरों की खबर के लिए यहां क्लिक करके आप हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं।

Show comments
Published by
संजय कुमार सि‍ंंह

Recent Posts

  • Bihar

नीतीश की भाजपा से दूरी कब और क्यों

KKN न्यूज ब्यूरो। बिहार की राजनीति में एक बड़ा बदलाव आ गया है। भाजपा और… Read More

अगस्त 9, 2022
  • KKN Special

इलाहाबाद क्यों गये थे चन्द्रशेखर आजाद

KKN न्यूज ब्यूरो। बात वर्ष 1920 की है। अंग्रेजो के खिलाफ सड़क पर खुलेआम प्रदर्शन… Read More

जुलाई 23, 2022
  • Videos

स्वामी विवेकानन्द का नाइन इलेवन से क्या है रिश्ता

ग्यारह सितम्बर... जिसको आधुनिक भाषा में  नाइन इलेवन कहा जाता है। इस शब्द को सुनते… Read More

जुलाई 3, 2022
  • Videos

एक योद्धा जो भारत के लिए लड़ा और भारत के खिलाफ भी

एक सिपाही, जो गुलाम भारत में अंग्रेजों के लिए लड़ा। आजाद भारत में भारत के… Read More

जून 19, 2022
  • Bihar

सेना के अग्निपथ योजना को लेकर क्यों मचा है बवाल

विरोध के लिए संपत्ति को जलाना उचित है KKN न्यूज ब्यूरो। भारत सरकार के अग्निपथ… Read More

जून 18, 2022
  • Videos

कुदरत की रोचक और हैरान करने वाली जानकारी

प्रकृति में इतनी रोमांचक और हैरान कर देने वाली चीजें मौजूद हैं कि उन्हें देख… Read More

जून 15, 2022