पाकिस्तान में सिर ढ़कने के लिए गुफा खोदते है लोग

पाकिस्तान। खुद को परमाणु संपन्न राष्ट्र कहने वाले पाकिस्तान की बड़ी आबादी आज भी सिर ढ़कने के लिए गुफाओं में रहने को विवश है। पेशावर के निकट तोरखम मेन हाईवे के पास शगाई किला के आसपास वाले इलाके में 3000 से 4500 लोग गुफाओं में रहते हैं।
जानकारो की माने तो शगाई क्षेत्र के कट्टा कुश्ता और अली मस्जिद इलाके में आज भी बड़ी संख्या में पाकिस्तान के गरीब लोग सिर ढ़कने के लिए गुफाओं में रह रहे हैं। हालांकि, यहां रहने वाले अफ्रीदी की माने तो मैदानों पर बने घरों से ज्यादा गुफाओं में जिंदगी आराम दायक है। अफ्रीदी के अनुसार गुफाओं में रहना एक पुराना तरीका है। लेकिन कुछ लोग इसलिए भी गुफाओं में रहना पसंद करते हैं, क्योंकि उनके पास रहने के लिए अपना मकान नही है।  जनसंख्या ज्यादा होने और जगह की कमी होने के कारण यहां रहने वालें लोग अपनी आवश्यकतानुसार गुफा खोद लेते हैं।