अमला के अटैक पर भारी पड़ा स्मिथ का हमला

​गुजरात लायंस ने बिगाड़ा पंजाब का खेल

संतोष कुमार गुप्ता

मोहाली। कौन जानता था कि हाशिम अमला की आतिशि शतकीय पारी बेकार चली जायेगी।किंतु मेजबान किंग्स इलेवन पंजाब को लचर क्षेत्ररक्षण का खामियाजा भुगतना पड़ा। चुस्त क्षेत्ररक्षक डेविड मिलर ने ड्वेन स्मिथ का कैच छोड़ दिया। यह मैच का टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ।  ओपनर हाशिम अमला (104) के आईपीएल के दूसरे शतक से जीत की उम्मीद लगाए बैठे किंग इलेवन पंजाब को प्ले ऑफ से बाहर हो चुके गुजरात लायंस ने रविवार को आईपीएल दस मुकाबले में छह विकेट की जीत के साथ करारा झटका दे दिया।
पंजाब ने अमला (104) के दूसरे शतक के बदौलत तीन विकेट पर 181 रन का मजबूत स्कोर बनाया लेकिन गुजरात ने 19.4 ओवर में चार विकेट पर 192 रन बनाकर दो गेंद शेष रहते जीत हासिल कर ली। प्ले ऑफ से बाहर हो चुके गुजरात की 12 मैचों में यह चौथी जीत है और उसके आठ अंक हो गए हैं। पंजाब को यह हार करारा झटका देनेवाली रही। पंजाब की 11 मैचों में यह छठी हार है और प्लेऑफ की अपनी उम्मीदों के लिए उसेे अपने बचे सभी तीन मैच जीतने होंगे और दूसरी टीमों का समीकरण भी देखना होगा।
पंजाब को अंतिम ओवरों में खराब गेंदबाजी का खामियाजा हार के साथ भुगतना पड़ा। ड्वेन स्मिथ ने 39 गेंदों में आठ चौकों और चार छक्कों की मदद से आक्रामक 74 रन बनाकर गुजरात को सांत्वना भरी जीत दिलाने में प्रमुख भूमिका निभाई। युवा इशान किशन ने 24 गेंदों में 29, कप्तान सुरेश रैना ने 25 गेंदों में 39 और विकेट कीपर दिनेश कार्तिक ने 23 गेंदों में नाबाद 35 रन ठोककर गुजरात को जीत की मंजिल पर पहुंचा दिया। संदीप शर्मा ने 29 रन पर दो विकेट लिए।
अमला ने पारी के आखिरी आेवर में थम्पी की गेंद पर पहले चौका और फिर कवर के ऊपर से छक्का जड़कर अपना शतक पूरा किया। मुंबई के खिलाफ भी वह छक्के से तिहरे अंक में पहुंचे थे। लेकिन स्मिथ शुरू से ही अमला की पारी पार पानी फेरने के मूड में दिखे। पावरप्ले में केवल उन्हीं के बल्ले से रन निकले। उन्होंने वरुण आरोन, मोहित शर्मा किसी भी गेंदबाज को नहीं बक्शा। पावरप्ले में लायन्स ने 58 रन बनाए जिसमें 43 रन स्मिथ के थे।
इसी स्कोर पर डेविड मिलर ने कैच टपकाकर उन्हें जीवनदान दिया था। इसके बाद 51 रन के निजी योग पर भी उनका कैच छूटा। इस बार क्षेत्ररक्षक गुरकीरत सिंह थे। गुरकीरत ने बाद में रैना का भी आसान कैच छोड़ा। स्मिथ ने इससे पहले अक्षर पटेल पर लांग आन क्षेत्र मंे छक्का जड़कर अपना अर्धशतक पूरा किया था। इशान किशन ने इस बीच केवल सहयोगी की भूमिका निभाई। टी नटराजन की गेंद पर मिलर को कैच देने से पहले उन्होंने 24 गेंदें खेली और तीन चौके लगाए।
स्मिथ पर इसका असर नहीं पड़ा। उन्होंने नटराजन के इस आेवर में छक्का जड़कर किंग्स इलेवन के खेमे में खलबली मचा दी। मैक्सवेल ने इसके बाद खुद गेंद संभाली लेकिन स्मिथ ने उनका स्वागत भी छक्के से किया। बहरहाल अगली गेंद पर उनका स्लॉग शाट डीप मिडविकेट पर खड़े मार्टिन गुप्टिल के सुरक्षित हाथों में चला गया। अब रैना पर निगाह थी जो आईपीएल में आठवें सत्र में 400 से अधिक रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज बने। मोहित शर्मा पर मिड आन पर लगाया गया उनका छक्का दर्शनीय था।
रैना को 36 रन के निजी योग पर जीवनदान मिला लेकिन वह इसका फायदा नहीं उठा पाए। संदीप शर्मा (29 रन देकर दो विकेट) की गेंद उन्होंने हवा में खेली और इस बार गुरकीरत ने गलती नहीं की। आरोन फिंच भी इसी आेवर में पवेलियन लौट गए जिससे मैच रोमांचक बन गया।  लेकिन कार्तिक ने आरोन पर छक्का और फिर चौका जड़कर पंजाब के समर्थकों को मायूस कर दिया। उन्होंने नटराजन की गेंद पर विजयी चौका लगाया।