मीनापुर प्रमुख के पत्र से मची खलबली

पंस की बैठक निरस्त करने को लिखा बीडीओ को पत्र

मुजफ्फरपुर। मीनापुर में शनिवार को संपन्न पंचायत समिति की बैठक को लेकर नया विवाद खड़ा हो गया है। रविवार को प्रमुख राधिका देवी ने बीडीओ को पत्र लिख कर मीनापुर की राजनीति में खलबली मचा दी है। बीडीओ को लिखे पत्र में प्रमुख ने शनिवार को हुए बैठक को निरस्त करते हुए नए सिरे से इसी महीने की 25 तारीख को पंचायत समिति की बैठक बुलाने का अनुरोध किया है।
इसी प्रकार प्रमुख ने अपने पत्र में शिक्षक नियोजन इकाई की 17 तारीख को अलग से बैठक करके समीक्षा करने की बात लिख कर बिरोधियो को सकते में ला दिया है। प्रमुख यही नही रूकी और कुछ सदस्यों पर सदन में बेवजह बाधा डालने का आरोप लगाते हुए बीडीओ को पंचायत समिति की बैठक के दौरान कानून का कड़ाई से पालन करने का भी अनुरोध किया है। दूसरी ओर बीडीओ संजय कुमार सिन्हा ने बताया कि प्रमुख के पत्र पर नए सिरे पंचायत समिति की बैठक के लिए नोटिश जारी की जाएगी। इस बीच प्रमुख बिरोधी खेमा भी सक्रिय हो गया और शनिवार को पारित प्रस्ताव को लागू कराने के लिए अधिकारी पर दबाव बढ़ा दिया गया है।
विदित हो कि शनिवार को पंचायत समिति की बैठक में सदस्यों ने सर्व सम्मति से फर्जी नियोजित शिक्षकों को बर्खास्त करने का एक प्रस्ताव स्वीकृत किया था। जानकार बतातें हैं कि यही प्रस्ताव विवाद का कारण बन चुका है। बतातें चलें कि पारित प्रस्ताव पर प्रमुख और उपप्रमुख सहित सदन में मौजूद सभी सदस्यों का हस्ताक्षर मौजूद है। हालांकि, शनिवार को ही बैठक से बाहर आने के बाद प्रमुख ने सदस्यों पर दबाव डाल कर हस्ताक्षर कराने का आरोप लगा कर मौजूदा राजनीति को हवा दे दिया था।