भारत बंद का उत्तर बिहार में दिखा व्यापक असर

बिहार में सड़क पर बंद समर्थक

बिहार के अधिकांश इलाको में भारत बंद का व्यापक असर मंगलवार को देखा गया। संविधान बचाओ संघर्ष समिति की ओर से आहूत इस बंद को राजद सहित सभी वाम दलों व ट्रेड यूनियनों का समर्थन प्राप्त था। इसके अतिरिक्त कई अन्य छोटी-छोटी पार्टियों ने भी बंद के समर्थन का एलान किया हुआ था। बंद समर्थक आर्थिक आधार पर सामान्य वर्ग को दी गई आरक्षण का विरोध व पिछड़ वर्ग कैटगरी को 70 फीसदी आरक्षण देने की मांग करते हुए बन संपदा से आदिवासी को को बेदखल करने के बिरोध में सड़क पर उतरे थे।

मुजफ्फरपुर में दिखा असर


मुजफ्फरपुर में बंद का सबसे अधिक असर फोरलेन व शहर के कई क्षेत्रों में देखा गया। फोरलेन पर गाड़ियां नहीं चल रही थी। सुबह में ही जीरोमाइल चौक को बंद समर्थकों ने जाम कर दिया। इसके कारण शहर में आखाड़ाघाट रोड पर जाम लग गया। कई स्कूलों की बसें जाम में फंस गयी। इसके कारण छात्र स्कूल में नहीं पहुंच सके। इंटर के परीक्षार्थियों को अपने सेंटर पर पहुंचने में परेशानी हुई। दूसरी ओर बंद समर्थको ने परीक्षार्थियों को रोके जाने से इनकार किया है। इधर, जिला प्रशासन की ओर से सार्वजनिक जगहों पर मजिस्ट्रों के साथ पुलिस फोर्स को तैनात किया गया था। डीएम आलोक रंजन घोस, एसएसपी मनोज कुमार पल-पल की जानकारी ले रहे थे।


दरभंगा में रेल का परिचालन रोका


वहीं, मोतिहारी में कुछ जगहों पर रोड भी जाम किया गया। दुकानें बंद रहीं। भारत बंदी के दौरान रक्सौल के कोइरिया टोला नहर चौक पर रोड जाम कर टायर जलाकर प्रदर्शन किया गया। बंद समर्थको ने सड़क पर जम कर प्रदर्शन किए और बंद को सफल बनाने की लोगों से अपील की। दरभंगा जंक्शन के आउटर सिग्नल म्यूजियम गुमटी के समीप जानकी एक्सप्रेस को बंद समर्थकों ने रोका। जयनगर से कटिहार जाने वाली जानकी एक्सप्रेस के परिचालन को आईसा समर्थकों ने म्यूजियम गुमटी पर करीब 10 मिनट तक बाधित किया। लहेरियासराय टॉवर चौक को बंद समर्थकों ने जाम कर नारेबाजी की। घनश्यामपुर में बस सेवा बंद रही। हालांकि, अन्य वाहनों का आवागमन सामान्य रहा।


बिरौल में दिखा असर


बिरौल में भारत बन्द का मिला-जुला असर देखा गया है। छोटी वाहन सड़क पर चलते दिख रहे थे। मुख्य सड़क एसएच 56 के प्रखंड मुख्यालय के सामने बन्द समर्थक सड़क जाम करके नारा लगाने लगे। हायाघाट में राजद एवं भीम आर्मी एकता मिशन के कार्यकर्ताओं ने लहेरियासराय- बहेड़ी पथ को अनार पावर सब स्टेशन के निकट जाम किया। बहेड़ी प्रखंड के बसकट्टी गांव में 13 प्वाइंट रोस्टर को लेकर छात्र राजद एवं युवा भारत विकास बोर्ड के कार्यकर्ताओं ने बहेड़ी मुख्य सड़क एसएच 88 को जाम कर दिया।


मधुबनी में प्रदर्शन


मधुबनी जिले में भारत बंद का मिलाजुला असर रहा। जगह-जगह विभिन्न मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने भारत बंद में शामिल होकर सड़क जाम व प्रदर्शन किया। फुलपरास में एचएच जाम कर कार्यकर्ताओं ने अपने गुस्से का इजहार किया। केन्द्र सरकार को लोकसभा चुनाव में इसके लिए सबक सिखाने पर अपनी प्रतिबद्धता जताई। जयनगर में कार्यकर्ताओं ने बाजार को जाम किया। वहीं शहर में आरक्षण बचाओ संघर्ष मोर्चा शहर में जगह-जगह यातायात बाधित किया। केन्द्र सरकार की नीतियों की जमकर आलोचन की। बंद के दौरान यातायात प्रभावित हुई।


अन्य जिलो में भी देखा गया असर


इसके अतिरिक्त सीतामाढ़ी, शिवहर, सारण, पूर्वी चंपारण, छपरा, हाजीपुर व वैशाली आदि जिला में बंद का असर देखा गया। सूबे की राजधानी पटना में भी बंद समर्थको ने पटना रांची हाईवे को जाम कर दिया और सड़को पर सरकार के खिलाफ जम कर नारेबाजी की है।