गरीब जनक्रांति पार्टी ने किया प्रदर्शन, अधिकारी को सौपे पांच सूत्री मांग पत्र

गरीब जनक्रांति पार्टी

गरीब जनक्रांति पार्टी ने पांच सूत्री मांगो को लेकर बुधवार को बिहार के मुजफ्फरपुर जिला अन्तर्गत मीनापुर प्रखंड का घेराव करके प्रदर्शन किया और बाद में अंचलाधिकारी ज्ञान प्रकाश श्रीवास्तव से मिल कर उन्हें ज्ञापन सौपा। इससे पहले पार्टी के समर्थको ने जुलूश निकाल कर प्रशासन और सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाए और नारेबाजी भी की।

प्रदर्शनकारियों को किया संबोधित

मीनापुर प्रखंड मुख्यालय पर प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष विकास कृष्ण ने कहा कि सिवाईपट्टी थाना के छितरा गांव के नौ बच्चे करंट से झुलस गए थे और आज ये सभी बच्चे इलाज के अभाव में अपंग हो चुकें हैं। तीन महीना हो गया और आज तक उन बच्चो की सुधि लेने वाला कोई नहीं है। नाहीं उन्हें बिजली विभाग की ओर से मुआवजा मिला और नाही उनका सरकारी अस्पताल में समुचित इलाज हो सका। इस बीच निजी अस्पताल में इलाज के नाम पर बच्चो के परिजन कर्ज की बोझ में डूब चुकें है। कहा कि बिजली कंपनी की लापरवाही के कारण छितरा में यह घटना घटित हुई और ताज्जुब की बात तो ये है कि आज भी उस गांव में बिजली का खंभा और तारा नहीं लगाया गया जा सका है।

सरकार पर बरसे नेता

उन्होंने कहा कि मीनापुर के किसानों को बाढ़ में बर्बाद हुए फसलों का मुआवजा आज तक नहीं मिला। जबकि, मुआवजा की राशि जिले में आ चुका है। कहा कि यदि किसान खुशहाल नहीं रहेंगे तो देश को भोजन करने के लिए अन्न कहां से मिलेगा? केन्द्र सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि पीएम मोदी बिहार को 500 करोड़ रुपए की सहायता देने का एलान किए थे। किंतु, यह राशि आज तक बिहार को नहीं मिला। लिहाजा, किसान आत्महत्या करने को विवश हो रहें है। कहा कि प्रखंड में वृद्धा व विधवा पेंशन के नाम पर लूट मची है। बिचौलिए 200 से 400 रुपये की वसूली कर रहें है। इसी तरह से राशन कार्ड के लिए भी लोग दर- दर की ठोकरें खा रहे हैं। कहा कि दो सप्ताह के भीतर उनकी मांगे पूरी नहीं हुई तो पार्टी इस आंदोलन को आगे बढ़ाते हुए जिला कार्यालय का घेराव करेगी।

ये लोग भी थे मौजूद

प्रखंड अध्यक्ष संजय यादव के नेतृत्व में आयोजित प्रदर्शन के दौरान पार्टी के प्रदेश प्रभारी रामाधार साह, किसान प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष सचिन सौरव, मुज़फ़्फ़रपुर जिलाप्रभारी बबन सिंह शेरु, प्रशान्त कुमार, अभिषेक कुमार, युवराज कश्यप, राहुल कुमार, मोहन कुमार, नीरज राणा, सुनील कुमार आदि बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।

ये है मांगे

पिछले वर्ष बाढ़ में बर्बाद हुए किसानों के फसल का मुआवजे भुगतान करने, राशन कार्ड में नाम जुड़वाने हेतु प्रत्येक पंचायत में कैम्प लगाने, वृद्धा पेंशन, विधवा पेंशन व विकलांग भत्ता में नाम जोड़ने के लिए पंचयातो में कैम्प लगाने, छितरा गांव के करंट से झुलसे बच्चें को मुआवजा देने और छितरा गांव में बजली की तार एवं पोल लगाने की मांग शामिल है।