एग्जिट पोल में बहुमत के करीब पहुंचा एनडीए

लोकसभा चुनाव

लोकसभा चुनाव 2019 का परिणाम तो 23 मई को आयेगा। किंतु, आज एग्जिट पोल का अनुमान आ गया है, जो परिणामो के संकेत दे रहें हैं। फिलहाल तो यह एनडीए और पीएम मोदी को राहत देने वाला है। तो आइए एक नजर डालतें हैं एग्जिट पोल के अनुमान पर।


इंडिया टुडे+CICERO


-इंडिया टुडे+CICERO के एग्जिट पोल में एनडीए को बहुमत मिलता बताया गया था। इंडिया टुडे ने अपने एग्जिट पोल में एनडीओ को 261 से 283 सीटें दी थी। वहीं कांग्रेस को 110 से 120 और अन्य को 150 से 162 सीटें दिखाई थी।


एबीपी न्यूज नील्सन


-एबीपी न्यूज नील्सन ने अपने एग्जिट पोल में एएनडीए को 281 सीटें दी थी। कांग्रेस को 97 और अन्य को 165 सीटें।

सीएनएन-आईबीएन


सीएनएन-आईबीएन सीएसडीएस ने एनडीए के लिए 270-282 सीटों का अनुमान दिया था। कांग्रेस को 92 से 102 सीटें दी थी तो अनेय को 159 से 181 सीटें।


इंडिया टीवी+सी वोटर


-इंडिया टीवी+सी वोटर के एग्जिट पोल में एनडीए को 289 सीटें मिलने का अनुमान जताया गया था। यूपीए को 101 सीटें दी गई थीं। वहीं अन्य के खाते में 153 सीटें का अनुमान दिखाया गया था।


न्यूज 24 + चाणक्य


-न्यूज 24 + चाणक्य ने बीजेपी को सबसे ज्यादा सीटें दी थी। इसने अपने एग्जिट पोल में एनडीए का आंकड़ा 340 पार बताया था। वहीं कांग्रेस को 70 प्लस सीटें दी थी। वहीं अन्य के खाते में 130 प्लस सीटों का अनुमान लगाया गया था।


2014 लोकसभा चुनाव के क्या रहे थे नतीजे


2014 के लोकसभा चुनाव में एग्जिट पोल के आस-पास ही परिणाम रहे थे। 2014 लोकसभा चुनाव में प्रचण्ड बहुमत से बीजेपी सत्ता में आई थी। 2014 में कुल 543 सीटों के लिए हुए लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने 282 सीटें जीत कर स्पष्ट बहुमत प्राप्त किया था। भाजपा के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) को 336 सीटें प्राप्त हुई थीं। वहीं यूपीए को 60 सीटें मिले थे। भाजपा ने 428 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे, जिनमें से 282 सीटों पर कब्जा जमाया था। वहीं कांग्रेस ने 464 सीटों पर उम्मीदवार उतारे थे और उन्हें महज 44 सीटों पर ही जीत हासिल हो पाई थी।


एग्जिट पोल बनाम आधिकारिक नतीजे


अगर एग्जिट पोल के आंकड़ों और फाइनल नतीजों का तुलनात्मक अध्ययन करें तो हम पाते हैं कि पिछले लोकसभा चुनाव में लगभग सभी एग्जिट पोल में बीजेपी को बहुमत के करीब दिखाया गया था। एग्जिट पोल के नतीजों से ही स्पष्ट हो गया था कि 2014 में केंद्र में सरकार बदलेगी और एनडीए की सरकार बनेगी। औपचारिक नतीजे आने के बाद ऐसा हुआ भी और केंद्र में मोदी सरकार आई। एग्जिट पोल में सरकार बदलने के संकेत तो मिल ही गए थे, मगर सबसे ज्यादा सटिक आंकड़े न्यूज 24-चाणक्य के थे, जिसने बीजेपी और एनडीए को जितनी सीटों का अनुमान दिया था, फाइनल नतीजे आने के बाद काफी मैच कर गए थे। मगर प्राय: एग्जिट पोल सटिक साबित नहीं होते हैं। इसलिए एग्जिट पोल बस एक तरह का अनुमान देता है, फाइनल नतीजे नहीं।