बिहार की रैली में कॉग्रेस अध्यक्ष ने किया सत्ता में वापसी का शंखनाद

राहुल गांधी

बिहार की राजधानी पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान से रविवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सत्ता में वापसी के लिए शंखनाद कर दिया है। पटना की रैली में राहुल गांधी के साथ मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के मुख्यमंत्री भी आए हैं। कांग्रेस की इस रैली को आगामी लोकसभा चुनावों की दृष्टि से बेहद अहम माना जा रहा है। बिहार में पार्टी के जनाधार की वापसी का फैसला जहां इस रैली से होगा, वहीं महागठबंधन के सहयोगियों संग सीटों की साझेदारी में भी कांग्रेस की हिस्सेदारी इस शक्ति प्रदर्शन से तय होगी।


बिहार में भी बनेगी गठबंधन की सरकार


रैली को संबोधित करते हुए कॉग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा, लोकसभा के बाद विधानसभा में भी गठबंधन की सरकार बनाएंगे। राहुल गांधी ने कहा 27 प्रतिशत चीनी बिहारी किसान देता था, जो आज घट कर महज 2 फीसदी रह गया है। कहा कि दिल्ली में कांग्रेस की सरकार आएगी तो पटना को सेंट्रल यूनिवर्सिटी का दर्जा दिया जाएगा। राहुल गांधी ने कहा कि नोट अच्छे नहीं लगे तो 500 और एक हजार रुपये के नोट बंद कर दिए गये। महिलाओं के बचत के पैसे बैंक में जमा करवाए और जनता के पैसे निकाले। नोटबन्दी दुनिया का सबसे बड़ा घोटाला है। कहा कि मोदी ने वादा करके आम लोगो को 15 लाख नहीं दिए। बिहार और देश के किसानों को को क्या मिला किसी से छिपा नहीं है। कहा कि मोदी सरकार ने दिन के मात्र 17 रुपये देकर किसानो का अपमान किया है। उद्योगपति के लिए सरकार ने हजारों करोड़ माफ किए। किंतु, किसानों का कर्ज माफ करने को राजी नहीं है। राहुल ने कहा कि कॉग्रेस शासित तीन राज्य में कांग्रेस ने किसानों का कर्ज माफ कर दिया है। बिहार कि इस ऐतिहासिक रैली के लिए राहुल गांधी ने कांग्रेस और महागठबंधन के प्रति आभार व्यक्त करते किया है।


बीजेपी पर धोखा देने का आरोप


राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बीजेपी पर जनता को धोखा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि 2 करोड़ रोजगार और 15 लाख रुपये खाते का नारा देकर बीजेपी ने जनता को धोखा दिया है। अगले चुनाव के लिए कांग्रेस ने किसान, नौजवान, न्यूनतम आमदनी का एजेंडा तय किया है। बिहार से जीत कर जाएंगे। जनता समझदार है।


जुमला से नहीं चलता है देश


मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि बिहार देश का निर्माण करेगा और नौजवान अब ठेके पर काम करना नहीं चाहता है। बीजेपी ने मेक इन इंडिया, डिजिटल इंडिया, स्किल इंडिया के नारे देकर लोगो को धोखा दिया है। उन्होंने कहा कि किसान आत्महत्या कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि राजनीति कलाकारी से नहीं चलेगी। कहा कि गंगा की सफाई के नाम पर देश के बैंक को साफ कर दिया गया।


खतरे में संवैधानिक संस्था


छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि संवैधानिक संस्था खतरे में है। राहुल का मतलब, किसानों का सम्मान है, गरीबों की चिंता है। किसानों का 6 हजार करोड़ कर्ज माफ किया। 2500 रुपये क्विंटल धान खरीद रहे हैं। 80 लाख मीट्रिक टन खरीदी है। किसानों की जमीन वापस कर दी। गठबंधन करके बीजेपी सरकार को भगाना है। उन्होंने कहा कि हमने छत्तीसगढ़ में बीजेपी की जीत की मशीन को खराब कर दिया है।


इन लोगो ने किया संबोधित


रैली को सीपीआई के सचिव सत्यनारायण, शरद यादव, राजद नेता तेजस्वी यादव, पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी, कॉग्रेस नेता सदानंद सिंह, प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, तारिक अनवर आदि नेताओं ने संबोधित किया।