अवैध पार्किंग से परेशान है काजीइंडा के लोग

कान में तेल डाले सो रही है पुलिस

संजय कुमार सिंह
मुजफ्फरपुर। मनियारी थाना के एनएच 28 काजीइंडा चौक पर अनाधिकृत पड़ाव स्थल में तब्दील हो गई है। आलम यह है कि यहां कभी भी बड़ी दुर्घटना हो सकता है। इतना ही नही बल्कि, सड़क किनारे गैस टैंकर लगे होने से लोगो की परेशानी और बढ़ गई है। करीब आधे किलोमीटर तक सड़क के दोनों तरफ अवैध रूप से बड़े वाहनों का पार्किंग होती है। इससे छोटे वाहन या साइकिल सवार व पैदल चलने वाले लोगों की मुसीबत बढ़ती जा रही है।
अमरख के मुखिया पति रविन्द्र पासवान, रघुनाथपुर मधुबन के मुखिया पति कालीकांत झा ने कहा चंद दूरी पर मनियारी थाना है। बावजूद इसके कभी भी पुलिस काजी इंडा चौक पर यातायात के प्रति गंभीरता नही दिखाई है। बतातें चलें कि काजीइंडा चौक, पांच मार्ग को जोड़ने वाली चौक है। यहां क्षेत्र के पचास हजार की आबादी के लोगों का रोज आना जाना होता है। काजीइंडा से केरमा, मुजफ्फरपुर महुआ मार्ग एवं मुजफ्फरपुर समस्तीपुर मार्ग के अलावे काजीइंडा से मुशहरी जाने वाली सड़क पर यहां जबरदस्त आवागमन रहता है।
बावजूद इसके यहां मौके पर कोई भी पुलिस मौजूद नही रहती है। गाड़ी की रफ्तार भी यहां अधिक तेज रहती है। काजी इंडा चौक से चंद दूरी पर गैस रिफलिंग प्लांट है। वहां दोनों तरफ 24 घंटे गैस की कंटेनर लगी रहती है। उस जगह सड़क की मोर है जो कभी भी बड़ी दुर्घटना का कारण बन सकता है। स्मरण रहे कि काजी इंडा चौक पर पहले भी कई हादसा हो चुका है। इस दौरान मनियारी के बीमा सलाहकार रामप्रताप साह के पुत्र की दर्दनाक मौत आज भी लोगों को रोंगटे खड़ी कर देती है। काजी इंडा चौक पर पिता रामप्रताप साह बस से उतरने के बाद अपनेपुत्र को साथ घर ले जाने के लिए खड़े थे तभी बस से उतरने के बाद ज्यों ही सड़क पार करने के लिए आगे बढ़ा वैसे ही एक ट्रक ने कुचलते हुए आगे बढ़ गया। पिता के सामने हुई पुत्र की मौत के बाद सदमे में मां की भी मौत हो गई और कुछ ही दिनो बाद पिता रामप्रताप साह भी चल बसे। लोगो का कहना है कि समय रहते पुलिस ने सक्रियता नही दिखाई तो यह जगह एक बार फिर से कोई बड़े दुर्घटना का गबाह बन सकता है।