नेताजी के भतीजी को आज भी उनके लौटने का है इंतजार

कोलकाता। नेताजी सुभाषचंद्र बोस की भतीजी चित्रा बोस को आज भी उम्मीद है कि एक न एक रोज नेताजी घर लौट कर आयेंगे जरूर। चित्रा बोस अब 87 साल की हो चुकी हैं। लेकिन उनके जहन में बचपन की यादें आज भी ताजा हैं। कोई भी जब उसने नेताजी के बारे में पूछता है तो उन्हें अपने बचपन के दिन पहले की तरह सामने आ जाता है।

चित्रा बोस के लिए नेताजी सिर्फ स्वतंत्रता संग्राम के महान नायक ही नहीं है बल्कि वह उनके बहुत ही प्यारे एक ऐसे चाचा थे जो उनके साथ खेलते थे। चित्रा बोस का जन्म 14 नंबर 1930 को हुआ था जो नेताजी के बड़े भाई शरतचंद्र बोस की सबसे छोटी संतान हैं। 90 के पड़ाव में पहुंच रहीं चित्रा बोस अपने आप को बहुत ही भाग्यशाली मानती हैं क्योंकि उनका जन्म नेताजी की भतीजी के रूप में हुआ है। इस सम्मान के लिए वह भगवान के प्रति कृतज्ञता प्रकट करती हैं।
नेताजी के जन्म दिवस के मौके पर मीडिया से बात करते हुए उन्होंने बताया कि उनके पास अपने चाचा के बारे में बताने के लिए बहुत कुछ तो नहीं है लेकिन वह अपने जीवन में जितने लोगों को देखा है उनमें से नेताजी जैसा इंसान कहीं नहीं मिला। यही मेरी सबसे बड़ी उपलब्धि है और इसके ईश्वर का आभार प्रकट करने के लिए मेरे पास कोई शब्द नहीं है। चित्रा बोस आजकल दक्षिण कोलकाता में बलीगंज इलाके में मौजूद अपने घर में रहती हैं।