केरल के बाढ़ पीड़ितो की मदद हेतु एनडीआरएफ ने झोंकी ताकत

भारत का राज्य केरल में बाढ़ से मची तबाही अब और भी बिकराल रूप धारन करती जा रही है। इस बीच राष्ट्रीय आपदा मोचन बल यानी एनडीआरएफ ने बारिश और बाढ़ से जूझ रहे केरल के विभिन्न इलाकों से 10 हजार से ज्यादा लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला है। बताया जा रहा है कि देश में यह अब तक का सबसे बड़ा राहत और बचाव अभियान है। एनडीआरएफ ने इस कार्य पर कुल 58 टीम राहत एवं बचाव काम के लिए केरल में तैनात की हुई हैं। उनमें से 55 टीम वहां काम कर रही हैं जबकि तीन टीम रास्ते में है।

सबसे बड़ी तैनाती

बाढ़ से जूझ रहे केरल राज्य में बल ने अपना राहत एवं बचाव अभियान तेज कर दिया है। किसी एक राज्य में अब तक का सबसे बड़ी तैनाती है और इस तरह यह अब तक का हमारा सर्वाधिक बड़ा आपदा मोचन अभियान है। आपदा मोचन बल की हर टीम में 35-40 कर्मी शामिल है, जो रात दिन बचाव कार्य में लगे हुए हैं।

जानवरो को भी बचाया

बचाव टीमों ने अब तक 194 लोग और 12 जानवरों को बचाया है और 10,467 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है। एनडीआरएफ की टीम अभी त्रिचुर, पथनमथिट्टा, अलापुझा, एर्णाकुलम, इडुक्की, मलापुरम, वायनाड और कोझीकोड में काम कर रही हैं। यहां एक नियंत्रण कक्ष दिन-रात हालात पर निगाह रखे हुआ है और प्रभावित लोगों को राहत पहुंचाने में लगी अन्य एजेंसियों के साथ लगातार संपर्क में है।
खबरो की खबर को पढ़ने के लिए KKN Live के पेज को फॉलो कर लें और शेयर व लाइक जरुर करें। आपके सुझाव का भी इंतजार रहेगा।