मीनापुर के बाढ़ पीड़ितो ने डीएम का किया घेराव

मीनापुर में बाढ़ का जायजा लेने के बाद डीएम धर्मेंन्द्र कुमार ने स्थानीय अधिकारी को कई निर्देश दिएं हैं। इसमें बाढ़ से विस्थापित परिवार को रहने के लिए तत्काल एक दर्जन टेंट लगाने, प्रति 200 विस्थापित परिवार के लिए एक शौचालय व चापाकल लगाने का आदेश दिया है। डीएम ने मीनापुर में भोजन के पैकेट बढ़ाने और बाढ़ में फंसे लोगो को सुरक्षित निकालने के आदेश दिएं हैं।
इससे पहले डीएम ने मीनापुर के बाढ़ पीड़ितो से मिल कर उनका दर्द सुना। बाढ़ पीड़ितो से मिलने के लिए डीएम ने मीनापुर में ट्रैक्टर की सवारी की और शिवहर सड़क पर सरकारी स्तर से दो ट्रैक्टर चलाने के भी निर्देश दिएं हैं। इस बीच राहत नही मिलने से आक्रोशित बाढ़ पीड़ितो ने मीनापुर अस्पताल चौक के समीप डीएम धर्मेंद्र कुमार का घेराव कर दिया और राहत की मांग करने लगे।
डीएम के पहुंचते ही हरकत में आये अधिकारी
डीएम के लौटते ही प्रशिक्षु आईएस वर्षा सिंह व डीटीओ नजीर अहमद मीनापुर पहुंच कर राहत कार्यो की समीक्षा की और चल रहे राहत कार्य पर असंतोष प्रकट करते हुए तत्काल आदेश से खाद्दान्न के 500 पैकेट का आबंटन दे दिया है। अधिकारी ने बताया कि गुरुवार को और 500 पैकेट मीनापुर भेजा जायेगा। इस बीच समीक्षा करने पहुंचे अधिकारी द्वय को मीनापुर प्रखंड मुख्यालय में जन प्रतिनिधियो के आक्रोश का सामना करना पड़ा। जन प्रतिनिधि बाढ़ पीड़ितो तक राहत नही पहुंचने का आरोप लगा रहे थे।