कुढ़नी के किसानो ने पूर्व कृषि मंत्री से लगाई गुहार

संजय कुमार सिंह
मुजफ्फरपुर। कुढ़नी प्रखंड के किसानों की समस्या को लेकर एक शिष्टमंडल सोमवार को बिहार सरकार के पूर्व कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह से मिलकर अपनी समस्याएं रखी। बिहार सरकार के पूर्व कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह के आवास पर मिलकर किसानों की समस्याएं रखी। शिष्टमंडल ने पूर्व मंत्री से कहा की बिहार का सबसे बड़ा प्रखंड होने के बावजूद कुढ़नी के किसान बदहाल है।
योजना तो आती है पर चंद लॅगो के बीच ही आकर सिमट कर रह जाती है। यहाँ के किसानों की दुर्भाग्य है जो न किसानो को सुखा का लाभ मिल पाती है नाही बाढ़ का। किसानों के साथ जो वर्तमान मे समस्या है उन्हें न समय पर बीज ना दवा, मिलती है खाद्य भी महंगा दर पर बाहर से लेने पड़ते है। किसानों के खेत मे जब मूंग मे फुल पकरता है उस समय बीज वितरित की जाती है।
फसलों का अनाज का सही मूल्य नही मिल पाती है। पूर्व कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह से कहा कि कुढ़नी में आठ पंचायतों मे बाढ़ का पानी आने के बाद भी उसे बाढ़ ग्रस्त घोषित नही कि गई। पानी सुखने के बाद अब सुखा की स्थिति उत्पन्न हो गई है। इधर, प्रखण्ड के किसान सुखा की मार झेल रहे हैं। कम वारिश के कारण किसानों का धान सूख रहा है। पूर्व मंत्री से आग्रह किया कि किसानों का पक्ष सरकार में बैठे कृषि कृषि मंत्री से बात कर ध्यान आकृष्ट कराएं और किसानों को खाद ,बीज, और अनाजो का सही मूल्य दिलाने की मांग हमारी रखी गई। शिष्टमंडल मे शामिल कुढ़नी के समाजसेवी युवा अमित राठौड़, दीपक सिंह, मदन सिंह, सुभाष सिंह, समेत कई किसान भी शिष्टमंडल के साथ थे।