स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का प्रधानमंत्री ने किया अनावरण

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज सरदार वल्लभ भाई पटेल के मूर्ति को देश को समर्पित कर दिया। इसको स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का नाम दिया गया है और यह दुनिया का सबसे बड़ा स्टैच्यू है। कार्यक्रम के लिए राज्य और केंद्र सरकार ने जबरदस्त तैयारियां की हैं। कहतें हैं कि 182 मीटर ऊंची इस प्रतिमा पर 2,989 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं। अनावरण के मौके पर भारतीय वायुसेना के जेट फाइटर फ्लाय पास पेश किया। एयरफोर्स की सूर्य किरण टीम प्रतिमा के पास से गुजरी और वहां भगवा, हरा और सफेद रंग का शानदार नजर दिखाया गया। पीएम मोदी ने जैसे ही वॉल ऑफ यूनिटी’ का लोकार्पण किया। ठीक उसी समय जगुआर फाइटर जेट्स कम ऊंचाई पर उड़ान भर रहे थे और दो एमआई 17 हेलिकॉप्टर पुष्प वर्षा कर रहे थे।

सांस्कृतिक कार्यक्रम

इस मौके पर 33 राज्यों से आये कलाकारो ने मनोरम सांस्कृतिक कार्यक्रम भी पेश किया। गुजरात पुलिस, सीआरपीएफ, सेना, नौसेना और वायुसेना के बैंड भी संगीतमय प्रस्तुति दे रहे थे। इस मौके पर गुजरात के राज्यपाल ओपी. कोहली, सीएम विजय रूपाणी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला और डिप्टी सीएम गुजरात नितिन पटेल भी मौजूद थे।

पर्यटक के रूप में होगा विकास

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का अनावरण तो आज हो गया और आम जनता इसका 1 नवम्बर से दीदार भी कर सकेंगे। सरदार सरोवर नर्मदा निगम लिमिटेड ने कहा है कि फूलों की घाटी, वॉल ऑफ यूनिटी, टेंट सिटी और दूसरे प्रोजेक्ट इस जगह को दुनिया का बेहतरीन पर्यटन स्थल बनाएंगे। सरदार वल्लभ भाई पटेल राष्ट्रीय एकता ट्रस्ट ने वेबसाइट और ऐप के जरिए ऑनलाइन टिकट का अरेंजमेंट किया है। टेंट सिटी को पानी पर तैरते सोलर पैनल रोशन करेंगे। पहली कड़ी में 50 टेंट तैयार हैं। 200 और तैयार किए जाएंगे। ये सर्व सुविधा युक्त टेंट होंगे। इस टूरिस्ट स्पॉट के लिए 60 गाइड भी तैनात किए गए हैं। इनमें 14 महिलाएं और 46 पुरुष हैं। इन्हें 1 महीने की खास ट्रेनिंग भी दी गई है।

%d bloggers like this: