… और शराब के नशे में टुन्न मिली महिला टीचर

पूजा श्रीवास्तव
छत्तीसगढ़। एक तो शराब का नशा और वह भी महिला टीचर पर। जिसने सुना, दांतो तले अंगूली दबा ली। दरअसल, हुआ ये कि छत्तीसगढ़ के बस्तर जिले में स्कूल का इंस्पेक्शन करने के लिए अधिकारियो की एक टीम पहुंची थी। जांच अधिकारी एक महिला टीचर को नशे में टुन्न होकर पढ़ाते हुए देख भौचक हो गये।

इतना ही नहीं बल्कि, स्थानीय लोगो ने टीम को बताया कि यह महिला टीचर रोजाना ही शराब पीकर पढ़ाने आती हैं। इसके बाद इंस्पेक्शन टीम ने आरोपी महिला टीचर को सस्पेंड करने की सिफारिश बस्तर के कलेक्टर को भेज दी है।
हद तो तब हो गई इंस्पेक्शन टीम द्वारा शराब पीने के बारे में पूछे जाने पर आरोपी महिला टीचर फुलेश्वरी देवी ने कहा कि शराब पीना उनकी संस्कृति का हिस्सा है। मैडम फुलेश्वरी देवी का जवाब सुनकर तो इंस्पेक्शन टीम के सदस्य भी बगलें झांकने लगे। दरअसल इलाके के एसडीएम के नेतृत्व में कई स्थानीय अधिकारी क्षेत्र के स्कूलों की जांच के लिए निकली हुई थी। इसी दौरान टीम दरभा इलाके के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भी पहुंची।
बुनियादी समस्याओं का जायजा लेने के बाद इंस्पेक्शन टीम ने स्कूल स्टॉफ की बैठक बुलाई। स्कूल स्टॉफ के साथ बैठक चल रही थी कि कहीं से शराब की बदबू आने लगी। अफसर नाक सिकोड़ कर एक दूसरे का चेहरा देखने लगे। उन्हें समझ में नहीं आ रहा था कि आखिर स्कूल के अंदर किसने शराब पी रखी ह। प्रशासनिक अमले के शक की निगाहें बैठक में मौजूद पुरुष शिक्षकों और बाबुओं पर गड़ी थीं। इस बीच किसी शिक्षक ने मैडम फुलेश्वरी की ओर इशारा किया।