मीनापुर के एक पुलिस कर्मी शराब बेचने के लिए दुकानदार को उसकाया

थाना अध्यक्ष ने आरोपित चालक को थाने से हटाया

मुजफ्फरपुर। जिस पुलिस के जिम्मे शराब के कारोबार की रोकथाम का जिम्मा है। जब, वही शराब बेचने के लिए दुकानदार को उसकाने लगे तो शराबबंदी कानून का माखैल बन जाना तय हो जाता है। आज मीनापुर थाना के बहबल बाजार चौक पर यही नजारा देखने को मिला। हालांकि, दुकानदार राजदेव सहनी के लिखित बयान के आधार पर थाना अध्यक्ष सोना प्रसाद सिंह ने आरोपित होमगार्ड जवान सह थाना के जीप चालक को लाइन में भेजने की अनुशंसा करके मामले पर पर्दा डाल दिया है।
दरअसल हुआ ये कि गुरुवार की देर शाम मीनापुर थाना के बहबल बाजार चौक पर पुलिस लिखी एक बाइक से आया एक व्यक्ति पान दुकानदार राजदेव सहनी को शराब बेचने और इसके एवज में रुपये देने को कहना लगा। इसके बाद सभी दुकानदार गोलबंद हो गए और उक्त व्यक्ति को अपने कब्जे में लेना चाहा। किंतु, बात बिगड़ते देख कथित पुलिस कर्मी यहां से भागने में सफल हो गया। हालांकि, इस बीच स्थानीय लोगो ने उक्त पुलिसकर्मी की वीडियो क्लिप भी तैयार कर लिया था।
इसके बाद पान दुकानदार राजदेव सहनी ने फोन पर थाना अध्यक्ष को घटना की जानकारी दी। इसने बाद मामले की जांच करने आये दारोगा रमाकांत सिंह से लोगो ने पूरी बात बताई और वीडियो क्लिप भी दारोगा को दिखाया। वीडियो क्लिप के आधार पर दारोगा ने उक्त व्यक्ति की पहचान होमगार्ड के जवान के रूप में कर ली है। बताया जाता है कि वह थाना के जीप का चालक है। हालांकि, दारोगा ने इसे फंसाने वाली कारवाई बता कर थाना अध्यक्ष को अपना रिपोर्ट दे दिया है। फिलहाल, इस घटना के बाद से बहबल बाजार के समीप के दुकानदारो में आक्रोश है।