रात मे आती थी लड़की – ‘मेरा शव यहीं पड़ गड़ा है मुझे निकालो ‘

​संतोष कुमार गुप्ता

फरीदाबाद। भूत प्रेत को हम अंधवश्वास से जोड़ कर देखते है। विज्ञान भी इसको नही मानता। किंतु अभी भी बड़ी आबादी भूत प्रेत व चूड़ैल से प्रभावित है। हरियाणा प्रदेश के फरीदाबाद में एक नाबालिग लडक़ी का नरकंकाल उसके घर से बरामद हुआ है। डेढ़ साल पहले मौत को गले लगाने वाली लडक़ी को उसके परिजनों ने घर के अंदर ही कब्र खोदकर दफन कर दिया था। हैरान करने वाली बात यह है कि इस बात की शिकायत पडोसियों ने इतना वक्त बीत जाने के बाद पुलिस से की।

मामला फरीदाबाद के संतोष नगर का है। इस लडक़ी को उसके परिजनों ने करीब डेढ़ साल पहले घर में ही दफना दिया था। पड़ोसियों का कहना है कि मृतक लडक़ी का साया (भूत) पिछले काफी दिनों से उनको परेशान कर रहा था। मृतक लडक़ी का यह साया पिछले डेढ़ साल से उन्हें डरा रहा था। यह साया उनसे कहता था, ‘मुझे घर के अंदर ही मेरे मां बाप ने दफना दिया है, मुझे बाहर निकालो।’ इसके बाद ही उन्होंने पुलिस को शिकायत की। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और कमरे को खुलवाकर उसकी खुदाई कराई, जिसमें लडक़ी का नरकंकाल निकला। पुलिस ने इस नरकंकाल को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया है।

पुलिस का कहना है कि शुरुआती जांच में मामला सुसाइड का लग रहा है, लेकिन पुलिस की इस थ्योरी पर यह सवाल उठया जा रहा है कि मामला आत्महत्या का था, तो घरवालों ने लडक़ी के शव को घर में ही दफ्न क्यों कर दिया। इसकी सूचना तब पुलिस को क्यों नहीं दी गई? पुलिस के मुताबिक, लडक़ी ने 14 जुलाई 2015 को घर में ही सुसाइड कर लिया था।

‘घर में दफन है मेरी लाश, मुझे निकालो’

पुलिस का कहना है कि उसके परिजनों ने लोक-लाज के डर से घर में ही एक कमरे के अंदर कब्र खोदकर लडक़ी को उसमें दफना दिया था। पुलिस मामले में आगे की जांच के लिए पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। पुलिस ने बताया कि लडक़ी के परिजनों को उसका नौकरी करना पसंद नहीं था, इसी के चलते उसने ख़ुदकुशी कर ली थी। लेकिन पड़ोसी इसे प्रेम प्रसंग का मामला बता रहे हैं।