प्रेम के त्रिकोण में फंस कर विपिन ने गंवाई जान

एक फूल और दो माली से पैदा हुआ था टकाराव

मुजफ्फरपुर। एक फूल के लिए दो माली के बीच टकराव ने आखिरकार एक युवक की जान ले ही लिया। घटना बिहार के मुजफ्फरपुर जिला अन्तर्गत सिवाईपट्टी थाना क्षेत्र का है। सिवाईपट्टी थाना के रघई पुल पर गुरुवार की देर शाम गोलीमार कर विपिन कुमार की हत्या के 24 घंटे बाद शुक्रवार की देर शाम हत्या की एफआईआर दर्ज हो गई। मीनापुर थाना के खरार गांव निवासी मृतक के पिता भज्जु पासवान ने देर शाम सिवाईपट्टी थाना पहुंचकर पुलिस को अपना लिखित बयान दे दिया।
थाना अध्यक्ष औरंगजेब आलम ने बताया कि अब तक के अनुसंधान व मृतक के पिता के बयान से पता चला है कि प्रेम प्रसंग के त्रिकोण में फंस कर विपिन की हत्या की गई है। बताया गया कि विपिन का एक युवती के साथ प्रेम संबंध था। अनुसंधान के दौरान पुलिस को पता चला है कि उक्त युवती का एक अन्य युवक के साथ भी प्रेम संबंध था। हालांकि, अभी यह खुलाशा होना बाकी है कि विपिन की हत्या युवती के परिजनों ने की या युवती का दूसरा प्रेमी हत्या का कारण बना?
बतातें चलें कि मृतक के पर्स से यूटीआई बैंक का एक पासबुक मिला है। यह पासबुक एक युवती का है। पुलिस इससे पहले मृतक के जेब से युवती की तस्वीर और नथिया बरामद कर चुकी है। दरअसल, विपिन मुबंई में रह कर मजदूरी का काम करता था और घटना से मात्र एक रोज पहले ही मुबंई से घर लौटा था।

मृतक के परिजन से मिला राजद का प्रतिनिधमंडल

राजद नेता उमाशंकर सहनी के नेतृत्व में पार्टी का नौ सदस्सीय प्रतिनिधमंडल शुक्रवार को मृतक विपिन के परिजनो से मिल कर उन्हें ढांढ़स बंधाया। बाद में पार्टी नेताओं ने बीडीओ से मिल कर पीड़ित परिवार को पारिवारिक लाभ योजना से 20 हजार रुपये व कबीर अंतेष्ठि योजना से 3 हजार रुपये देने की मांग की है। प्रतिनिधमंडल में प्रखंड अध्यक्ष उमाशंकर सहनी के अतिरिक्त राजगीर राम, सच्चिदानंद कुशवाहा, जवाहर राम, शिवजी सहनी, मुइम अंसारी, बिक्रांत यादव, भागिरथ सहनी, मो. शमीम अंसारी आदि शामिल थे।