समस्तीपुर में शराब माफिया ने पुलिस पर बरसाई गोली

मुठभेड़ में बीएमपी का एक जवान शहीद, कई अन्य जख्मी

बिहार। समस्तीपुर के हलई ओपी के इंद्रवारा में बीते देर रात शराब माफिया ने पुलिस टीम पर अंधाधूध फयरिंग शुरू कर दी। जवाब में पुलिस ने भी काउंटर फयरिंग की। दोनो ओर से करीब 50 राउंड गोली चलने की बात सामने आ रही है। गोली लगने से बीएमपी जवान अनिल कुमार की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी। जबकि सरायरंजन थानाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह के बाये हाथ में गोली लगी। थानेदार का इलाज निजी अस्पताल में चल रहा है।
मृतक बीएमपी जवान जहानाबाद जिला के घोसी थाना के पीतांबरपुर के रहने वाले है। जबकि थानाध्यक्ष गोपालगंज के रहने वाले हैं। मिली जानकारी के अनुसार हलई ओपी क्षेत्र से शराब की खेप ले जाने की सूचना पर डीआईयू और सरायरंजन की टीम ने वाहन का पीछा किया। इस दौरान शराब माफिया अपनी कार को इंद्रवरा से बाबा केवल स्थान जाने वाली सड़क की ओर मोड़ दिया। पुलिस ने वाहन को घेर लिया। इसके बाद ज्योही पुलिस कार के पास पहुंची, कार के अंदर से अत्याधुनिक हथियार से गोली चलानी शुरू कर दी। अचानक चली गोली के जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग शुरू कर दी।

इस बीच शराब कारोबारियों ने शराब लदी कार को सड़क पर छोड़ कर फायरिंग करते अंधेरे में गायब हो गए। एसपी दीपक रंजन ने घटना स्थल पर मामले की जांच शुरू कर दी है। उन्होंने कहा कि जब्त कार के आधार पर कारोबारी और अपराधी की खोज की जायगी। इधर, बीएमपी जवान की लाश को पुलिस लाइन ले जाकर गार्ड ऑफ़ ऑनर दिया गया। इस घटना के बाद पुलिस लगातार उक्त क्षेत्र में सर्च अभियान चला रही है। हालांकि अभी तक पुलिस को कारोबारी के बारे में कोई साक्ष्य हाथ नहीं लगा है।