कलियुगी बाप ने अपनी दुघमुही बच्‍ची को बली चढाया

​तंत्र मंत्र साधना के लिये चढाया दूधमुहीं बच्ची का बली

संतोष कुमार गुप्ता

अपना तंत्र मंत्र सिद्धी के लिये एक कलियुगी पिता ने दुधमुंही बच्ची को बली चढा दी है। जहां एक ओर संतान के लिये लोग क्या क्या जतन करते है। वही कलेजे के टुकड़े के साथ जो यहां हुआ वह दिल दहला देने वाली है। उत्तर प्रदेश के संभल जिले की चंदौसी के बनियाठेर थाना क्षेत्र के मोहल्ला नरौली में एक पिता ने अपनी सवा महीने की बच्ची की बलि दे दी। पिता द्वारा तंत्र-मंत्र के लिए अपनी ही मासूम बच्ची की दिल दहला देने वाली बलि दिए जाने की वारदात के बाद पूरे इलाके में सनसनी मच गई। निर्दयी पिता ने अपनी मासूम सवा महीने की बेटी की घर में ही बने मंदिर में उसकी गर्दन धड़ से अलग कर बलि दे दी। इस वारदात के बाद आरोपी पिता फरार हो गया। जानकारी के मुताबिक, कल्याण यहां अपने परिवार के साथ रहता है। परिवार में पत्नी और दो बेटियां हैं, जिसमें एक तीन साल की है और दूसरी बेटी सवा महीने की थी। बताया जा रहा है कि कल्याण फड़ पर दुकान लगा कर परिवार चलता है। साथ ही वह तंत्र-मंत्र के चक्कर में भी रहता है। शुक्रवार देर रात पत्नी ने पास में सो रही अपनी एक बच्ची के न होने पर उसे ढूंढा तो नहीं मिली जब उसकी नजर पास के दूसरे कमरे पर पड़ी तो नजारा देख कर उसके होश उड़ गए। उसकी बच्ची का सिर कटा हुआ शरीर जमीन पर पड़ा हुआ था। जबकि उसके पास में बैठा कल्याण पूजा कर रहा था। चीख सुनकर मोहल्ले के लोगों के जमा होने पर आरोपी पिता फरार हो गया।

बताया जा रहा है कि कल्याण किसी तांत्रिक से मिला था, जिसने बच्ची की बलि देने से उसकी आर्थिक स्थिति ठीक होने की बात कही थी। फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच कर रही है साथ ही आरोपी पिता की तलाश में दबिश दे रही है।