भारत में खतरनाक हुआ वायु प्रदूषण, सांस लेना हुआ मुश्किल

वायु प्रदूषण

भारत में वायु प्रदूषण खतरनाक अवस्था तक पहुंचने लगा है। इसका मानव जीवन पर गहरा असर पड़ने लगा है। अंदाजा लगाना मुश्किल हो गया है कि हमारे आस-पास कितनी खतरनाक वायु मौजूद हैं। दरअसल, भारत में वायु प्रदूषण को लेकर किए गए एक सर्वे में चौंका देने वाला खुलासा समने आया है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि, बढ़ते वायु प्रदूषण के कारण हमारी जिंदगी एक साल तक कम हो रही है।

 

घटने लगी है उम्र

‘ग्लोबल बरडन ऑफ डिजीज प्रोजेक्ट’ ने एशियाई और अफ्रीकी देशो में किए अपने सर्वे के आधार पर यह खुलासा किया है। आंकड़ों से पता चला चला है कि एशियाई और अफ्रीकी देशों में पीएम 2.5 प्रदूषण का लेवल काफी ज्यादा है। इसकी वजह से लोगों की जिंदगी एक साल तक घटती जा रही है। इस मामले मे भारत की हालत बहुत ही खराब है। यहां रह रहे लोगों की उम्र डेढ़ से पौने दो साल तक घट जाने का आशंका जाहिर किया जा रहा है।

भारत के लिए खतरे का संकेत

दरअसल, वायु प्रदुषण हमारे दिल और फेफड़ा के लिये बेहद खतरनाक हो सकता है। रिपोर्ट में कहा गया है कि वायु प्रदूषण से कैंसर होने के खतरे अचानक बढ़ गएं हैं। अध्ययन में यह भी सामने आया है कि दुनिया के कुल 15 बेहद ही प्रदूषित शहरों में पीएम 2.5 प्रदूषक तत्व पाए गए है। चौकाने वाली बात यह है कि इनमें से 14 शहर सिर्फ भारत में ही हैं।