भाजपा के राष्ट्रीय अधिवेशन में पीएम ने दी जीत का मंत्र

भाजपा का राष्ट्रीय अधिवेशन

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी की दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन के दूसरे रोज आज शनिवार को पीएम मोदी ने कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र दिया। इस अधिवेशन में शीर्ष नेता, पदाधिकारी, निर्वाचित प्रतिनिधि और जिला स्तर के प्रमुख शामिल हैं। अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कॉग्रेस पर जोरदार हमला करते हुए किसान सहित समाज के सभी वर्ग के कल्याण हेतु चल रही योजनाओं से कार्यकर्ताओं को विस्तार से अवगत कराया।


भाजपा के संकल्प


इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह सहित गृह मंत्री राजनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, वित्तमंत्री अरूण जेटली और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आदि सभी बड़े नेता रामलीला मैदान में मौजूद थे। इससे पहले अधिवेशन के पहले दिन शुक्रवार को पार्टी ने दो संकल्प भी लिए। पहला था कृषि और खेती से जुड़े मुद्दे पर और दूसरा था सोशल सेक्टर के डेवलपमेंट को लेकर। जिसमें आनेवाले चुनावों को देखते हुए किसानों की निराशा, ग्रामीण क्षेत्रों में आय का कम होते जाना, विभिन्न जातियों के गुस्से और नौकरी को लेकर पार्टी ने चिंता जाहिर करते हुए इस पर ध्यान केन्द्रित करने की कोशिश की।


चुनावी रणनीति पर हुआ मंथन


लोकसभा चुनावों के मद्देनजर भाजपा का यह राष्ट्रीय अधिवेशन राजनीति के गलियारे में अहम मानी जा रही है। इस अधिवेशन के सहारे पार्टी के केन्द्रीय नेतृत्व देश भर की सभी 545 लोकसभा सीटों पर तो नजर रखेगा ही। इसके साथ ही देश में किसी भी राज्य की तुलना में यूपी से आने वाली सबसे ज्यादा 80 सीटों पर भी फोकस करेगा। ऐसा संकेत मिल रहें हैं। बतातें चलें कि केन्द्रीय नेतृत्व ने उत्तर प्रदेश में 73 से ज्यादा सीटो पर जीत हासिल करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। ऐसे में इस राष्ट्रीय अधिवेशन में पार्टी का हाईकमान यूपी को विशेष तौर पर अपने राडार पर लेगा और सपा-बसपा के गठबंधन को भेदने की रणनीति को भी अंतिम रूप देने की योजना बनाई है।