इंटरनेट सर्विस के लिए रेलवे ने कसी कमर

नई दिल्ली। इंटरनेट आज की जरुरत बन चुकी है। कहतें हैं कि यात्रा के दौरान फुरसत के क्षणो में यदि बेहतर सिगनल न मिले तो झल्लाहट होना लाजमी है। इसी को देखते हुए रेल विभाग ने कमर कस लिया है। फिलहाल, कनेक्टिविटी के मामले में दिल्ली-हावड़ा रेलमार्ग अन्य रेलवे रूट के मुकाबले सबसे बेहतर माना जा रहा है। यह दावा एक अध्ययन में किया गया है। अध्ययन के दौरान इस रूट पर सर्वाधिक 88 फीसदी नेटवर्क कवरेज पाया गया। वहीं बेंगलुरु-चेन्नई रूट 78 फीसदी कनेक्टिविटी के साथ दूसरे स्थान पर और दिल्ली-मुंबई रूट 74 फीसदी नेटवर्क कवरेज के साथ तीसरे स्थान पर है। अध्ययन दर्शाता है कि कुछ मार्गों पर नेटवर्क कनेक्टिविटी 70-88 फीसदी के बीच है। जबकि अन्य स्थानो पर यह गिरकर 20 फीसदी ही रह जाती है। बेंगलुरु-मुंबई-कोलकाता रेलमार्ग पर 63 फीसदी मोबाइल नेटवर्क कवरेज है। जबकि मुंबई-बेंगलुरु-चेन्नई मार्गों पर 58 फीसदी इंटरनेट कवरेज है।