बेकार प्लास्टिक बोतलो से बनाया बाढ बचाव जैकेट

​हरशेर के किसान विनोद कुमार ने किया कमाल

नौका व संसाधन के कमी के कारण किया नया इजाद

 

संतोष कुमार गुप्ता

मीनापुर। जहां एक ओर मीनापुर मे बाढ से आम जनता त्राही त्राही कर रही है। नाव की किल्लत के कारण सुरक्षित स्थानो की ओर नही जा सकते है। एनडीआरएफ की टीम भी आखिर कहां कहां जाये। इसी बीच हरशेर पंचायत के सोढना माधोपुर गांव के विनोद कुमार ने बेकार पड़े प्लास्टिक की खाली बोतलो से बाढ बचाव जैकेट तैयार किया है। यह जैकेट पहनने से लोग पानी मे नही डूब सकेंगे। यह जैकेट का इलाके मे जबर्दस्त चर्चा हो रही है। किसान विनोद कुमार बताते है कि इस जैकेट को दर्जनो लोग पानी मे पहन कर उतर चुके है। बांध टूटने या पानी के तेज बहाव से भी यह जैकेट लोगो की रक्षा करेगा। यह जैकेट पहनने से लोग पानी की तेज धारा मे बह सकता है किंतु डूब नही सकता। बाढ बचाव कार्य मे भी यह प्रभावकारी साबित हो सकता है। इसको बनाने के लिए सारा समाग्री भी गांव मे ही उपलब्ध है। चार मीटर टेरीकॉटन कपड़ा,छह प्लास्टिक का बड़ा बोतल का जुगाड़ करना है। बोतल का मुंह नीचे रखना है। नीचे का डोरी जांघ को मजबूत तरीके से पकड़ कर रखे। ताकि जैकेट शरीर को छोड़ नही पाये। बोतल मे एयर होने के कारण आदमी डूब नही पायेगा। केले के थम्ब से बने बेड़ा पर भी इसका उपयोग किया जा सकता है।