डीएम के जनता दरबार में उठा शिक्षक नियोजन फर्जीवाड़ा का मामला

जनता दरबार

KKN ब्यूरो। बिहार के मुजफ्फरपुर जिला अन्तर्गत मीनापुर प्रखंड में “जिला प्रशासन आपके द्वार” के तहत मीनापुर हाई स्कूल में जनता दरबार लगा कर जिलाधिकारी मो. सोहैल ने 190 मामलो की सुनवाई की। इसमें सर्वाधिक जमीनी विवाद शामिल था। इसी प्रकार पेंशन और राशन के वितरण सहित आवास योजना में गड़बरी का मामला भी उठा है। पंसस शिवचन्द्र प्रसाद, राजद अध्यक्ष उमाशंकर सहनी और बहादुरपुर के देवेन्द्र प्रसाद ने मीनापुर में चल रही फर्जी शिक्षक नियोजन का मुद्दा उठाया। डीएम ने जिला शिक्षा पदाधिकारी ललन प्रसाद से इस पर रिपोर्ट तलब की और फर्जीवाड़े में संलिप्त लोगो की पहचान करके एफआईआर दर्ज कराने का आदेश दिया। जनता दरबार में मौजूद नहीं रहने वाले सर्व शिक्षा अभियान सह जिला स्थापना पदाधिकारी विनय कुमार सिंह के वेतन भुगतान पर डीएम ने तत्काल रोक लगा दी है।

आंगनबाड़ी केन्द्र की गड़बरी से शुरू हुआ जनता दरबार

इससे पहले जनता दरबार की शुरूआत कोदरिया के आंगनबाड़ी केन्द्र पर बहाली के विवाद से शुरू हुआ। कोदरिया के किरण कुमारी ने डीएम को बतायी कि दस महीना कबल बहाली की बैठक हो गई और आज तक नियुक्ति पत्र जारी नही हुआ। डीएम ने सीडीपीओ को शीघ्र ही चयनपत्र निर्गत करने का आदेश दिया। इसी प्रकार विशुनपुर केशो के कैलाश राय ने तीन महीने से राशन नहीं मिलने की शिकायत की। उपप्रमुख रंजन सिंह ने मीनापुर को सूखाग्रस्त क्षेत्र घोषित करने की मांग की। जिला पार्षद सीता देवी और मीनापुर हाई स्कूल के एचएम सुनील कुमार ने हाई स्कूल के स्टेडियम का मामला उठाया। डीएम ने यहां तत्काल खेल शिक्षक को प्रतिनियुक्त करके स्टेडियम चालू कराने का बीईओ को आदेश दे दिया है।

रिश्वत लेने और अवैध शराब बेचने का आरोप

बाड़ाभारती के प्रलंयकर कुमार ने आंगनबाड़ी केन्द्रो पर रिश्वत लेने का मामला उठाया। रमेश गुप्ता ने शराब की अवैध बिक्री और मो. सदरुल खान ने बिजली की समस्या से डीएम को अवगत कराया। मुखिया नीलम कुमारी ने पेंशनधारियों का नाम सरकारी वेबसाइट पर नहीं होने का मामला उठाया। शकुंतला गुप्ता ने बंद पड़े राजकीय नलकूप और दुकानदारो द्वारा छुट्टा पैसा नहीं लेने का मुद्दा उठाया। इसी प्रकार वरुण सरकार, महंगू बैठा, कुंती देवी, चिंता देवी, संगीता देवी ने भी अपनी बात रखी और डीएम ने सभी मामले में जांच के आदेश दे दिएं है।

यह अधिकारी रहें मौजूद

डीएम के जनता दरबार में प्रशिक्षु आईएस विशाल राज, डीडीसी उज्जव कुमार सिंह, एडीएम अतुल कुमार वर्मा, जिला जनशिकायत पदाधिकारी अशोक कुमार, डीआरडीए के डायरेक्टर ज्योति कुमार, पीएचईडी के कार्यपालक अभियंता प्रभात कुमार सिंह, लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी राजीव सिन्हा, एसडीओ पूर्वी कुन्दन कुमार, एसडीएम रंगनाथ चौधरी, डीएसओ जावेद अंसारी, जिलाशिक्षा पदाधिकारी ललन प्रसाद, एसईएमओ डॉ. अरुण सिन्हा, लीड बैंक प्रबंधक एनके सिंह, विधायक मुन्ना यादव सहित जिले के सभी पदाधिकारी और स्थानीय जनप्रतिनिधि भी मौजूद थे।

जनता दरबार में इन लोगो ने रखी अपनी बात

मीनापुर के जनता दरबार में विधायक मुन्ना यादव, जदयू के प्रखंड अध्यक्ष पंकज किशोर पप्पू, जिला पार्षद रघुनाथ राय, कंचन सहनी, राजद अध्यक्ष उमाशंकर सहनी, आप नेता मनोज कुमार सिंह, मुखिया संघ की अध्यक्ष नीलम कुमारी, मनीष कुमार, विनोद निराला, जगदीश साह आदि ने डीएम के समक्ष अपनी मांगो को पुरजोर तरीके से रखा और मौके पर डीएम मो. सोहैल ने संबंधित अधिकारी को जांच के आदेश भी दिए।

बिकलांग को बैंक नहीं दे रहा है उसकी जमा पूंजी

बैजू साह
बैजू साह

दोनो पांव से बिकलांग तुर्की के 55 वर्षीय बैजू साह अपनी फरियाद लेकर डीएम के जनता दरबार में पहुंचे। किंतु, समय से रिजस्टेशन नहीं होने के कारण उसकी शिकायत नहीं सुनी गई। हालांकि, उसने कई अधिकारी से गुहार लगाई और निराश होकर लौट गया। लाठी के सहारे डीएम के जनता दरबार में पहुंचे श्री साह ने बताया कि उन्होंने उत्तर बिहार ग्रामीण क्षेत्रिय बैंक में 12,080 रुपये का एफडी कराया हुआ था। चालू वर्ष के 15 मार्च को इसका मैच्यूरिटी भी पूरा हो गया। किंतु, बैंक अब रुपये देने से इनकार कर रहा है। बैंक का कहना है कि वेबसाइट पर उसका नाम नहीं है। बैजू दोनो पांव से बिकलांग है और अब उसको समझ नहीं आ रहा है कि क्या करें?

मुसमाती पेंशन के लिए गुहार लगा रही थी महिला

फुलेशरी देवी
फुलेशरी देवी

तुर्की गांव की 70 वर्षिय मुसमात फुलेशरी देवी कहती है कि उसको मुसमाती पेंशन नहीं मिलता है। इसके लिए फुलेशरी ने कई बार स्थानीय मुखिया और बीडीओ को आवेदन भी दे चुकी है। कहा जाता है कि काम हो जायेगा। किंतु, अभी तक पेंशन योजना में उसका नाम नहीं जुड़ा है। फुलेशरी भी बिना रिजस्टेशन कराए ही डीएम के जनता दरबार में अपनी फरियाद लेकर कई अधिकारी से गुहार लगाती रही। किंतु, उसके समस्या का भी कोई समाधान नही हुआ। निराश होकर फुलेशरी वहां मौजूद लोगो को ही अपनी दास्तान सुनाती रही।

जमीन पर दखल के लिए लगाई गुहार

कुन्ती देवी, चिन्ता देवी
कुन्ती देवी, चिन्ता देवी

नूर छपरा गांव की कुन्ती देवी के जमीन पर गांव के दबंग लोगो ने कब्जा जमा लिया है। कुन्ती बुधवार को डीएम के जनता दरबार में गुहार लगाने आई थी। किंतु, उसको समझ नहीं आ रहा था कि वह किससे अपनी बात कहे। लिहाजा, भीड़ में जो मिल जाता था, उसी से वह अपनी फरियाद करने लगती थी। इसी प्रकार महदेइयां की चिंता देवी पेंशन के लिए डीएम से गुहार लगाने यहां जनता दरबार में पहुंची थी। किंतु, उसको भी समझ नहीं आ रहा था कि आखिरकार शिकायत को कहां दर्ज कराएं। चिंता बताती है कि मुखिया से लेकर बीडीओ तक वह पिछले कई महीने से दौर लगा रही है। पर, कही कोई सुनने को तैयार नहीं है। उसको जैसे ही पता चला कि मीनापुर में आज बड़ा हाकिम आने वाला है। वह यहां भी चली आई। किंतु, बदकिस्मती ऐसी की, यहां भी उसको निराशा ही हाथ लगी।

मीनापुर में हुआ जिला विकास समन्वयन एवं निगरानी समिति की बैठक

जिला निगरानी समिति
जिला निगरानी समिति

मीनापुर में बुधवार को आहूत जिला विकास समन्वयन एवं निगरानी समिति की बैठक में मुजफ्फरपुर को सूखाग्रस्त घोषित करने के प्रस्ताव सहित कुल 27 प्रस्ताव स्वीकृत किये गये। इसमें बिजली, मनरेगा, नलकूप, कृषि, शिक्षा, बिजली शामिल है। बैठक की अध्यक्षता सांसद रमाकिशोर सिंह ने किया।
विधायक मुन्ना यादव की मांग पर माहपुर में दो राज और तुर्की में दस रोज के भीतर बिजली लगाने का आदेश कार्यपालक अभियंता को दिया है। सांसद अजय निषाद ने औराई के आथर पुल, शहर के चन्द्रवाड़ा पुल और शहर के ट्राफिक का मुद्दा उठाया और सकरा के कदाने नदी पर डैम बनाने की मांग रखी। बरूराज विधायक नन्दकुमार राय ने मोतीपुर बाजार के प्रदूषण और एनएच पर जल जमाव का मुद्दा उठाया। गायघाट विधायक महेशर प्रसाद यादव ने जाता पंचायत में जलनल योजना को चालू कराने की मांग रखी। जिला परिषद अध्यक्षा इन्द्रा देवी ने अखाड़ाघाट के विस्थापितो की पुर्नवास और बांध की मरम्मति की मांग रखी। पूर्व विधायक वीणा देवी ने गायघाट के भूसरा में बिजली लगाने की मांग की और रजुआ घाट और धुवौली घाट पुल को तत्काल बनाने की मांग की है। उपप्रमुख रंजन सिंह ने पानापुर में स्वास्थ्य उपकेन्द्र बनाने और इसके लिए जमीन दान देने का प्रस्ताव रखा।

 

मुखिया ने उठाई शिक्षक नियोजन फर्जीवाड़ा का मामला

नीलम कुमारी
नीलम कुमारी

बैठक के दौरान ही मीनापुर प्रखंड मुखिया संघ की अध्यक्ष नीलम कुमारी ने मीनापुर में 700 फर्जी टीईटी शिक्षक बहाली का मुद्दा उठा कर सदन को गरमा दिया। मुखिया नीलम कुमारी ने इस फर्जीवाड़े में कई जन प्रतिनिधि और अधिकारी के संलिप्त होने का खुला आरोप लगा कर सभी को सकते में डाल दिया। नीलम के आरोपो से तिलमिलए डीएम मो. सोहैल ने जिला शिक्षा अधीक्षक को जम कर फटकार लगाई और बैठक में मौजूद मीनापुर के बीडीओ और उपप्रमुख रंजन कुमार सिंह को तीन रोज के भीतर नियोजन इकाई की बैठक करके सभी चिन्हित फर्जी शिक्षको को बर्खाश्त करने का आदेश दे दिया।

अधिकारी ने दी रिपोर्ट कार्ड

जिला आपूर्ति पदाधिकारी जावेद अंसारी ने बताया कि जिले के 3.56 लाख लोगो को अभी तक रसोई गैस का कनेक्शन मिल चुका है। डीडीसी उज्जवल कुमार सिंह ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना में 2 हजार नए लाभुक को जोड़ने का प्रस्ताव सरकार को भेजा गया है। डीआरडीए के डायरेक्टर ज्येाति कुमार ने बताया कि जिले के बंदारा और मुरौल प्रखंड सहित जिले का 80 पंचायत ओडिएफ घोषित हो चुका है। बताया कि शौचालय निर्माण का 3.41 लाख का लक्ष्य है। इसमें 70 हजार का भुगतान हो चुका है। बताया कि जिले में 27 लाख मानव दिवस का श्रृसजन किया गया है और मनरेगा में 1,674 योजनाएं ली गई। इस योजना के तहत 28.95 करोड़ रुपये का मजदूरो को भुगतान कर दिया गया है। जिला पंचायत राज पदाधिकारी फैयाज अख्तर ने बताया कि जिले के 38 पंचायत को ब्रॉडबैण्ड से जोड़ दिया गया है। डीएसओ जावेद अंसारी ने बताया कि राशनकार्ड के लिए अभी तक 2 लाख लोगो ने आवेदन दिया है। इसमें पूवी अनुमंडल में 4,700 और पश्चिमी अनुमंडल में 2 हजार कार्ड बन कर तैयार है। ग्रामीण विभाग के कार्यपालक अभियंता ने बताया कि प्रधानमंत्री सड़क योजना का सर्वे का काम प्रगति पर है। नगर आयुक्त ने बताया कि शहर के 1,521 लोग भूमिहीन है। कहा कि शहर के 3,972 परिवार को शौचालय उपलब्ध करा दिया गया है।

बैठक में थे मौजूद

वैशाली के सांसद रमाकिशोर सिंह की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में मेयर सुरेश कुमार, सकरा के अशोक कुमार सिंह, कांटी के प्रमुख मुकेश पांडेय, कांटी के नगर अध्यक्ष हरेन्द्र पासवान सहित सभी प्रखंड की प्रमुख और जिले के अधिकांश जनप्रतिनिधि और अधिकारी बैठक में मौजूद थे।

%d bloggers like this: