नवजात के आहार के लिए जरूरी है जागरूकता

मीनापुर के टेंगरारी में महिलाओं ने निकाली जुलूश

मीनापुर। नवजात को कब और क्या आहार दिया जाए, इससे आज भी ग्रामीण समाज अनजान हैं। सबको इसकी जानकारी देने के लिए जीविका ने अनूठी पहल की है। इसी कड़ी में जीविका की महिलाओं ने टेंगरारी गांव में जुलूस निकाल कर लोगों को जागरूक किया। इससे पहले महिलाओं को वीडियो के माध्यम से भी नवजात के आहार के बारे में जानकारी दी गई। जीविका के प्रखंड स्वास्थ्य एवं पोषण प्रबंधक रौशन कुमार ने बताया कि नवजात की खाद्द सामग्री में सात समूह का शामिल होना आवश्यक है। इनमें अनाज व कंद-मूल, दाल-मेवा व फलिया, मांस, मछली और अंडा, दूध व दूध से बने उत्पाद, हरी पत्तेदार सब्जियां और मौसमी गहरा पीला या नारंगी फल व अन्य खाद्द सामग्री शामिल हैं। बताया गया कि इनमें से कम से कम चार तो प्रतिदिन के खुराक में शामिल होना चाहिए।

इससे पहले सूरज जीविका व दीपक जीविका ग्राम संगठन की 194 महिलाओं ने जागरूकता रैली निकाली कर पूरे गांव में भ्रमण किया। इस दौरान लोगों को पूरक आहार के प्रति जागरूक किया गया। मौके पर जीविका प्रखंड परियोजना प्रबंधक सुधीर कुमार राय, सामुदायिक समन्वयक जेबा कैसर, मुखिया नीलम देवी, ग्राम संगठन की अध्यक्ष रोमा देवी, सुनीता देवी, रेखा देवी, संगीता देवी, मुकेश कुमार आदि मौजूद थे।