देश में नई शिक्षा नीति लाने की तैयारी अंतिम चरण में

नई दिल्ली। केन्द्र सरकार जल्द ही देश में नई शिक्षा नीति लाने की तैयारी में हैं। सूत्रो मिली जानकारी के मुताबिक केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय इस वर्ष के अंत यानी दिसम्बर में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति का पहला मसौदा लाने की तैयारी को अंतिम रूप देने में लगा है। इस नीति को भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (आईएसआरओ) के पूर्व अध्यक्ष के.कस्तूरीरंगन की अध्यक्षता वाली नौ सदस्यीय समिति द्वारा तैयार किया जा रहा है। मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्री ने कहा कि समिति ने दो दिन पहले अपनी पांचवीं बैठक आयोजित की थी।
बताया जा रहा है के संसद में चर्चा के बाद इसे जल्द से जल्द लागू कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह तय है कि नई शिक्षा नीति देश के लिए अगले 20 साल तक मुफीद रहेगी और यह पहले से ज्यादा आधुनिक और शोध केंद्रित होगी और बेहतर नागरिक भी बनाएगी। समिति के गठन से पहले विधायकों, छात्रों, माता-पिता व अन्य हितधारकों से करीब ढाई साल तक सुझाव मांगे गए। केंद्रीय पर्यटन मंत्री के.जी. अल्फोंस व फील्ड्स मेडल विजेता गणितज्ञ मंजुल भार्गव इस समिति के सदस्य हैं। समिति का गठन इस साल जून में किया गया था।